ओज़ोन कंपनी का हजार करोड के कारोबार का लक्ष्य

नई दिल्ली, 5 जुलाई(एजेन्सी)। आर्किटेक्चरल हार्डवेयर उद्योग में एवरस्टोन कैपिटल पीई इक्विटी फंड से वित्त पोषित कंपनी ओज़ोन एंटरप्राइस गु्रप ने तेजी से बढते सिक्युरिटी एवं सर्विलांस और आईओटी उद्योग में विशेषकर भारत में सीसीटीवी कैमरों और अन्य सुरक्षा एवं निगरानी उत्पादों के लिए विनिर्माण क्षमता तैयार करने में कारोबार विविधीकरण पर अगले दो वर्षों में 100 करोड रूपये से अधिक का निवेश करने की घोषणा की है। कंपनी इसके तहत मेक इन इंडिया पहल को प्रोत्साहित करेगी। आर्किटेक्चरल हार्डवेयर, तिजोरी एवं तहखाने, ताले, अग्नि एवं सुरक्षा दरवाजें और अर्बन फर्नीचर जैसे विविध क्षेत्र में उपस्थिति के साथ यह ब्रांड इस देश में तिजोरी और ताले के क्षेत्र में शीर्ष 3 कंपनियों में शुमार है। अपनी आक्रामक वृद्धि और विविधीकरण योजनाओं के बल पर समूह वर्ष 2021 तक 1,000 करोड रूपये का कारोबार हासिल करने की संभावना तलाश रहा है। कंपनी की योजनाओं के बारे में बातचीत करते हुए ओज़ोन एंटरप्राइस गु्रप के संस्थापक एवं प्रबंध निदेशक आलोक अग्रवाल ने कहा कि ओज़ोन ब्रांड पिछले दो दशकों से अपने ग्राहकों को उच्च गुणवत्ता के उत्पादों और समाधानों की सतत डिलीवरी करता रहा है। इस ब्रांड ने पिछले कुछ वर्षों में साल दर साल 21 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की है और अब समय आ गया है कि हम नए कारोबार में विविधीकरण कर इसमें तेज उछाल लाएं। हमारा पहला और सबसे महत्वपूर्ण कार्य ऐसे कारोबारों की पहचान करना था जिनमें तेज वृद्धि हो और जो हमारे मौजूदा कारोबारों की पूरक हो और हमने सुरक्षा एवं निगरानी और आईओटी क्षेत्र की पहचान की। हमारी योजना अगले दो वर्षों में इन नए कारोबारों में विविधीकरण पर 100 करोड रूपये से अधिक निवेश करने की है और हम विविधीकरण के लिए सामान्य कारोबारी वृद्धि और विलय एवं अधिग्रहण के विकल्पों पर विचार कर रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *