सगाई तोडऩे की धमकी देकर नाबालिग का देहशोषण

श्रीगंगानगर, 17 मई (का.सं.)। सगाई हो जाने पर एक युवक ने अपनी नाबालिग मंगेतर के साथ शारीरिक सम्बंध बना लिये और फिर वह सगाई तोड़ देने की धमकी देकर उसका देहशोषण करने लगा। यही नहीं, बाद में लड़के वालों द्वारा दहेज में मोटरसाइकिल व एक लाख का कैश की मांग पूरी नहीं करने पर सगाई तोड़ दी। पीडि़त लड़की ने युवक, उसके मां-बाप और एक अन्य जने पर दहेज मांगने और उसका देहशोषण करने के आरोप में मुकदमा दर्ज करवाया है। मामला समेजा कोठी थाना क्षेत्र का है। पीडि़ता ने विगत 27 मार्च को यहां पुलिस अधीक्षक को प्रार्थना पत्र दिया था, लेकिन उस पर कोई कार्यवाही नहीं हुई। बाद में पीडि़ता ने अदालत में इस्तगासा दायर कर दिया। पुलिस के अनुसार इस नाबालिग लड़की का रिश्ता रवि नामक युवक से उसके मां-बाप ने किया था। पीडि़ता ने बताया कि उसकी एक बहन अनूपगढ़ में विवाहित है। वह अपनी बहन से मिलने जाती थी, वहां रवि भी आता था। रवि ने एक दिन उसके साथ जबरन शारीरिक सम्बंध बना लिये। इसके बाद वह जब भी बहन के यहां जाती, वहां आकर रवि उसके साथ गलत काम करता। वह इंकार करती तो रवि सगाई तोड़ देने की धमकी देता था। सगाई में उसके मां-बाप ने रवि और उसके परिवार वालों को सोने की अंगूठी, चैन, 21 हजार रुपये नकद व कईं अन्य उपहार दिये थे। उसके मां-बाप ने जब भी शादी के लिए कहा, तो रवि और उसके परिवार वाले कोई ना कोई बहाना बनाकर टाल-मटौल कर देते थे। उन्होंने अनेक बार बहाने बनाकर उसके मां-बाप से कभी 10 हजार तो कभी 20 हजार रुपये ले लिये। विगत 23 मार्च को वह अपनी बहन के यहां गई हुई थी, तब रवि और उसके साथ बिन्द्र सिंह मेहरा भी आया। रवि उसके साथ अश्लील हरकतें करने लगा, तो उसने शोर मचा दिया। रवि और बिन्द्र वहां से भाग गये। इसे लेकर काफी हंगामा हुआ। पीडि़ता का आरोप है कि रवि और उसके माता-पिता सोहन सिंह एवं राजकौर शादी से पहले ही दहेज में मोटरसाइकिल और एक लाख का कैश मांगने लगे। यह देने में उसके परिजन असमर्थ थे। इस पर उन्होंने सगाई तोड़ दी। उनसे सगाई में और बाद में लिये गये रुपये व सामान आदि को लौटाने से इंकार कर दिया। मामला धारा 406, 498 ए व 376 मेें दर्ज किया गया है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *