भारत को निवेश का बेहतरीन ठिकाना बनाने में नहीं छोड़ेंगे कोई कसर: पीएम मोदी

नई दिल्ली। पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि वह भारत को दुनिया का सबसे अच्छा निवेश ठिकाना बनाने में कोई कसर नहीं छोड़ेंगे। उन्होंने कहा कि भारत बिजनस के लिए एक बेहतर जगह होगी और लोगों में जोश भरने के साथ-साथ पूरे प्राइवेट सेक्टर में तेजी लाने के लिए वह हर संभव कोशिश करेंगे। पीएम मोदी ने विदेशी निवेश, निर्यात, ऑटोमोबाइल सेक्टर के रिवाइवल, डेटा प्रोटेक्शन और जम्मू-कश्मीर में आर्टिकल 370 हटाने के बाद वहां बन रहे अवसरों के बारे पर बातचीत की।
प्रसिद्ध उद्यमी जम्मू-कश्मीर में करना चाहते हैं निवेश – पीएम मोदी ने कहा, ‘सिर्फ देश के लोगों को भारत से उम्मीद नहीं है, वैश्विक ग्रोथ और विकास के संदर्भ में भी हमसे काफी आशाएं हैं। दुनिया को भारत से जो उम्मीद है, मोदी उसे पूरा करेंगे। प्रधानमंत्री यह सुनिश्चित करेंगे कि विकास की जो क्षमता भारत में है, वह हासिल हो। मोदी ने कहा कि अनुच्छेद 370 पर लिए गए हालिया फैसले के बाद जाने-माने उद्यमियों ने जम्मू-कश्मीर में निवेश करने में रुचि दिखाई है। उन्होंने कहा कि ‘क्लोज्ड एनवायरमेंट में आर्थिक विकास संभव नहीं है और इंटीग्रेशन से निवेश, इनोवेशन और आमदनी बढ़ेगी। भारत ने पिछले हफ्ते जम्मू-कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 को वापस लेने के साथ उसे दो केंद्र शासित प्रदेशों में बांटने का फैसला लिया था।
बड़े पैमाने पर रोजगार के मौके बनाना चाहती है सरकार –मोदी ने कहा, ‘कश्मीर में पर्यटन, कृषि, आईटी, स्वास्थ्य सेवाओं जैसे कई क्षेत्रों में निवेश की अपार संभावनाएं हैं। इससे ऐसा माहौल बनेगा, जिसमें क्षेत्र के लोगों को हुनर, कड़ी मेहनत का इनाम और सामान की सही कीमत मिलेगी। प्रधानमंत्री के मुताबिक, सरकार चाहती है कि उद्यमियों की उत्पादकता और मुनाफा बढ़े। उद्योग तेजी के साथ बढ़ें और उनका आकार बड़ा हो। कंपनियों की भारत और वैश्विक बाजारों तक पहुंच हो। निवेशकों को अधिक रिटर्न मिले। अर्थव्यवस्था में निवेश बढ़े और बड़े पैमाने पर रोजगार के मौके बनें।
इलेक्ट्रिक वीइकल ग्रोथ के लिए पर्याप्त बजार और पॉलिसी –ऑटोमोबाइल सेक्टर के स्लोडाउन पर पीएम ने कहा कि यह मंदी अस्थायी है जो कुछ समय बाद दूर हो जाएगी और इलेक्ट्रिक वीइकल के लिए यह चिंता का कारण नहीं है। उनका मानना है कि जल्द ही इंडस्ट्री और मांग दोनों ही वापसी करेंगे। उन्होंने कहा कि इंटरनल कंबशन इंजन आईसीई वाले ऑटोमोबाइल और इलेक्ट्रिक वीइकल की ग्रोथ सुनिश्चित करने के लिए हमारे पास काफी बाजार और अच्छी पॉलिसी है। उन्होंने आगे कहा कि सरकार निवेश-आधारित विकास के पांच साल के विजन जिसका लक्ष्य 100 लाख करोड़ का है, उसे पूरा करने के लिए प्रतिबद्ध है।
जीएसटी के फायदे लोगों को पता नहीं -जीएसटी पर पीएम मोदी ने कहा कि जीएसटी को लेकर सरकार का अगला कदम इस सिस्टम के फायदों के बारे में ग्राहकों को जागरूक करने का होगा। उन्होंने कहा, ‘वर्तमान में यह पूरी तरह से गायब है। इस सिस्टम के अंतर्गत कस्टमर्स को फायदों के बारे में जानना चाहिए।’ मोदी ने आगे कहा कि एक स्टडी के मुताबिक जीएसटी रेट कटौती औसतन एक मिडल क्लास फैमिली को सालाना 1,500 रुपये बचाने में मदद करती है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *