टिकटों को लेकर दावेदारों में हलचल तेज, अभी कांग्रेस-भाजपा में मंथन

 

जयपुर, 28 अक्टूबर (एजेन्सी)। राजस्थान विधानसभा चुनाव को लेकर प्री पोल सर्वे आने के बाद तो कांग्रेस में टिकटों को लेकर मारामारी चरम पर है। कांग्रेस के नेता और कार्यकर्ता यही मानकर चल रहे है कि राजस्थान में बदलाव की बयार है और कांग्रेस की सरकार बनने जा रही है। वहीं भाजपा में मौजूदा विधायकों के टिकट कटने को लेकर भी दूसरी पंक्ति में खड़े भाजपा नेताओं और कार्यकर्ताओं की टिकट मिलने की उम्मीद है। भाजपा के नेता और कार्यकर्ता यह मानकर चल रहे है कि पीएम नरेंद्र मोदी और भाजपा के चाणक्य राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह की जोड़ी राजस्थान में दोबारा भाजपा की सरकार बनायेगी। जयपुर से लेकर दिल्ली तक कांग्रेस और भाजपा में टिकटों को लेकर माथापच्ची जारी है। दिल्ली में कांग्रेस की स्क्रीनिंग कमेटी की बैठक में यह तय हुआ कि एक सीट पर दो बार हार चुके कांग्रेस नेताओं को इस बार टिकट नहीं दिया जाए। लेकिन इस मुद्दे के बावजूद टिकटों को लेकर एकराय नहीं बन सकी। वहीं प्रदेश भाजपा की चुनाव प्रबंधन कोर कमेटी 200 सीटों पर रायशुमारी कर चुकी है, लेकिन फिर भी दो दिन तक सभी जिलों में भाजपा नेताओं के प्रवास तय करके प्रदेश अध्यक्ष मदनलाल सैनी ने रिपोर्ट मांगी है। माना जा रहा है कि दोनों ही पार्टियां दीवाली से पहले या बाद में पहली वह लिस्ट जारी करेगी, जिन पर कोई विवाद नहीं है। आपको बता दे कि 12 नवंबर से नामांकन दाखिल होंगे और 20 नवंबर तक नामांकन दाखिल किये जा सकेंगे। 22 नवंबर नामांकन वापसी की आखिरी तारीख है। इसके बाद 7 दिसंबर को मतदान होगा और 11 दिसंबर को मतगणना होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *