मूंगफली की खरीद 11 अक्टूबर से शुरू होगी

एक बार में 25 क्विंटल मूंगफली बेचने की केन्द्र सरकार की शर्त को मंत्री ने अव्यवहारिक बताया

गंगानगर, 7 अक्टूबर (नि.स.)। सहकारिता मंत्री अजय सिंह क्लिक ने कहा कि राज्य में किसानों से मूंगफली की खरीद 11 अक्टूबर से शुरू की जायेगी। क्लिक ने शनिवार को बीकानेर में पत्रकारों को बताया कि किसानों की केंद्र सरकार से स्वीकृति मिलते ही किसानों को सूचित कर दिया जायेगा। वर्तमान में राज्य में समर्थन मूल्य पर मूंगफली खरीद के 29 केंद्र हैं। बीकानेर जिले में फिलहाल बीकानेर, नोखा, डूंगरगढ़ और लूणकरनसर में चार केंद्र हैं। किसानों की सुविधा के लिये इन चारों केंद्रों के अतिरिक्त 10 और केंद्र खोले जायेंगे। इसके तहत इन चारों केंद्रों में अतिरिक्त एक एक और केंद्र सहित कोलायत, नापासर में भी केंद्र खोलने के प्रयास किये जा रहे हैं। यह पहली बार होगा कि एक साथ इतने केंद्र खोले जायेंगे। क्लिक केंद्र सरकार की योजना के तहत यह शर्त कि एक किसान एक बार में 25 क्विंटल से अधिक मूंगफली नहीं बेच सकता, को पूरी तरह अव्यावहारिक बताते हुए कहा कि उन्होंने किसानों के ऐतराज से पहले ही केंद्र सरकार को इसे वापस लेने के लिये लिख दिया था। इस प्रावधान को हटवाने के प्रयास किये जा रहे हैं और उम्मीद है कि यह वापस हो जायेगा। इस पर निर्णय होने तक किसानों को 25 क्विंटल खरीद के बाद ही तुरंत दूसरी तारीख दे दी जायेगी। उन्होंने मूंगफली खरीद में भामाशाह कार्ड की अनिवार्यता से इंकार करते हुए कहा कि जिन किसानों के भामाशाह कार्ड नहीं बने, वे ई मित्र पर इसके लिये आवेदन कर सकते हैं और उनके कार्ड बनने तक उनके आवेदन नम्बर को ही पंजीकरण नम्बर मान लिया जायेगा और वे मूंगफली बेचने से वंचित नहीं होंगे। क्लिक ने किसानों से अनुरोध किया कि वे अपनी फसल की गुणवत्ता का विशेष ध्यान रखें जिससे उनकी खरीद में किसी तरह की दिक्कत न आये। क्लिक ने कहा कि मूंगफली की खरीद में पारदर्शिता के मद्देनजर ऑनलाइन खरीद की जा रही है, इससे पक्षपात की संभावना खत्म हो जायेगी। उन्होंने मौजूदा राज्य सरकार को किसानों का हितैषी बताते हुए कहा कि राज्य सरकार के अब तक के कार्यकाल में किसानों को करीब 57 हजार करोड़ रुपये के गण दिये हैं और उम्मीद है कि पूर्ण कार्यकाल तक करीब 80 हजार करोड़ रुपये के रिण वितरित किये जायेंगे। इसकी तुलना कांग्रेस ने किसानों को पूरे पांच साल में 25 हजार करोड़ रुपये के रिण दिये थे। रिण देने के दौरान राज्य सरकार ने किसानों को बीमा प्रदान करने की सुविधा मुहैया कराई है।
खरीद के लिए ऑनलाइन पंजीकरण शुरू
सहकारिता एवं गौपालन मंत्री अजय सिंह किलक ने कहा कि मूंग और मूंगफली खरीद की प्रक्रिया पारदर्शी बनाने के लिए रा’य सरकार द्वारा नया सॉफ्टवेयर बनाकर पहली बार खरीद की ऑनलाइन प्रक्रिया प्रारम्भ की गई है। क्लिक ने बीकानेर में अनाज मंडी परिसर में कोलायत तहसील क्रय विक्रय सहकारी समिति द्वारा आयोजित कार्यक्रम में मूंग एवं मूंगफली के समर्थन मूल्य पर खरीद की ऑनलाइन के पंजीकरण का विधिवत शुभारम्भ करते हुए कहा कि किसान राज्य के ई-मित्र केन्द्रों एवं खरीद केन्द्रों पर ऑनलाइन आवेदन कर सकता है। ऑनलाइन आवेदन करते समय भामाशाह कार्ड, गिरदावरी तथा बैंक खाते की प्रति की जरूरत होगी। उन्होंने बताया कि अब तक राज्य में 10 हजार से अधिक किसानों ने ऑनलाइन प्रक्रिया के जरिए आवेदन दिया है। क्लिक ने कहा कि मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने स्पष्ट निर्देश दिए हैं कि जिन स्थानों पर आवक ज्यादा है, वहां खरीद केन्द्रों की संख्या बढ़ा दी जाए। इससे किसानों को ज्यादा दूरी पर आना-जाना नहीं पड़े। राज्य सरकार किसानों की समस्याओं को सुनने तथा उनके निस्तारण के लिए संकल्पबद्ध है।इसके लिए सीधे किसानों की बात सुनी जा रही है। उन्होंने कहा कि किसानों से अधिक से अधिक माल खरीदा जाए और उन्हें असुविधा न हो, इस दिशा में पूरी पारदर्शिता से कार्य किया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *