आकाश से गिरा रेडियो एक्टिव आर्टिकल संदिग्ध वस्तु जानकर फैली अफवाहें

 

 

श्रीगंगानगर, 3 मार्च (नि.स.)। कल शुक्रवार को होली के दिन श्रीगंगानगर के राजियासर थाना इलाके में कानोर हैड गांव के नजदीक आकाश से पैराशूट से गिरे हुए एक संदिग्ध उपकरण को लेकर तरह-तरह की गम्भीर अफवाहें फैल गईं, लेकिन यह वस्तु मौसम विभाग द्वारा मौसम का पूर्वानुमान लगाने के लिए आकाश में छोड़ा जाने वाला रेडियो एक्टिव आर्टिकल निकला। पुलिस के अनुसार शुक्रवार दोपहर को कानौर हैड गांव से लगभग डेढ़ किमी दूर एक टिब्बा क्षेत्र में एक चरवाहे ने संदिग्ध वस्तु पड़ी देखी। उसने गांव वालों को इस बारे में बताया। बाद में इसकी सूचना पुलिस को मिली। थानाधिकारी रामचंद्र कस्वा मौके पर पहुंचे। पुलिस के अनुसार सफेद रंग का सात इंच लम्बा यह आर्टिकल एक छोटे से पैराशूट से बंधा हुआ था। इस वस्तु पर रेडियो एक्टिव आर्टिकल लिखा हुआ था। रशियन लैंग्वेज में भी इस पर कुछ लिखा हुआ था। इस वस्तु को लेकर तरह-तरह की अफवाहें फैल गईं। लोगों ने गूगल पर रेडियो एक्टिव आर्टिकल के बारे में खोजबीन की, तो इस बारे में चौका देने वाली जानकारियां थीं। गूगल पर जानकारी मिली कि रेडियो एक्टिव आर्टिकल, क्रॉस बॉर्डर टैरिरिजम का एक हथियार है। इस हथियार से अमेरिका जैसे देश भी त्रस्त हैं, लेकिन इधर पुलिस ने जब इस उपकरण का विशेषज्ञों से मुआयना करवाया, तो वह अपने ही देश के मौसम विभाग का एक साधारण उपकरण निकला। थानाधिकारी ने बताया कि इस उपकरण को बाद में थाने में लाया गया, जिसे मौसम विभाग के ही सुपुर्द किया जा रहा है। इस उपकरण को आकाश में काफी ऊंचाई पर छोड़ा जाता है। इसकी समयावधि पूरी होने पर उपकरण स्वत: नीचे गिरने लगता है, तब इसका पैराशूट खुल जाता है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *