जम्मू कश्मीर में पुलिस को मिलेंगी बुलेटप्रूफ गाडिय़ां: राजनाथ सिंह

श्रीनगर, 10 सितम्बर (एजेंसी)। जम्मू कश्मीर में अब पुलिस को बुलेटप्रूफ गाडिय़ां दी जाएंगी। इसके लिए सरकार ने रकम भी आवंटित कर दी है। इस बारे में गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने रविवार को घोषणा की। गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि केंद्र सरकार ने जम्मू कश्मीर में पुलिसकर्मियों के लिए बुलेटप्रूफ वाहनों की खरीद के लिए रकम आवंटित की है। गृह मंत्री रविवार को दक्षिण कश्मीर के अनंतनाग जिले में पुलिसकर्मियों के साथ बातचीत कर रहे थे। 16 जून को अनंतनाग जिले के अचबल इलाके में एसएचओ फिरोज अहमद समेत छह पुलिसकर्मियों की हत्या के बाद ये बड़ी घोषणा की गई है।गौरतलब है कि शहीद एसएचओ ने दक्षिण कश्मीर में आतंकवादियों के खतरे के मद्देनजर बुलेटप्रूफ वाहन का अनुरोध किया था, लेकिन उन्हें यह उपलब्ध नहीं कराया गया। अनंतनाग में राजनाथ सिंह ने कहा, ”हमनें जम्मू कश्मीर पुलिस के लिए बुलेटप्रूफ वाहनों की खरीद के लिए रकम आवंटित की है। गृह मंत्री ने यह भी कहा कि केंद्र ने पुलिसकर्मियों के लिए ट्रॉमा सेंटर खोलने के लिए भी कोष को मंजूरी दी है। उन्होंने घाटी में ”बेहद चुनौती भरे हालात में काम करने के लिए पुलिसकर्मियों की प्रशंसा भी की। उन्होंने हाल ही में दक्षिण कश्मीर में आतंकी हमले में शहीद हुए एएसआई अब्दुल रशीद और कांस्टेबल इम्तियाज को श्रद्धांजलि भी दी। उन्होंने कहा, ”कश्मीर के लिए सर्वोच्च बलिदान किया गया। हमें अपने पुलिसकर्मियों पर गर्व है। आप यहां बेहद चुनौती भरे हालात में काम कर रहे हैं। जम्मू कश्मीर पुलिस के अपने बहादुर साथियों की बहादुरी की सराहना करने के लिए मेरे पास शब्द नहीं हैं। यहां तक प्रधानमंत्री ने भी आपके साहस की प्रशंसा की।
शहीद की बेटी का आंसुओं से भीगा चेहरा याद कर भावुक हुए राजनाथ सिंह
केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह अभी जम्मू कश्मीर के दौरे पर हैं। उन्होंने यहां पर जम्मू कश्मीर में शांति की अपील की। उन्होंने कहा कि मैं यहां सबसे अपील करूंगा कि अगर आपको कोई भी शिकायत है तो आप सीधे हमसे बात कर सकते हैं। मैं आपसे बात करने के लिए तैयार हूं। गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने जम्मू कश्मीर पुलिस के एक कार्यक्रम में जवानों को संबोधित करते हुए कहा कि आप सबके लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का संदेश लेकर आया हूं। आप सबके वीरता और साहस का सम्मान करता हूं। इस मौके पर उन्होंने शहीद एएसआई अब्दुल राशिद की बेटी का भी जिक्र किया।
उन्होंने कहा है कि उन्होंने शहीद एएसआई अब्दुल राशिद की बेटी जोहरा की तस्वीर देखी, उसका आंसुओं से भीगा चेहरा देखा, दिल से उसका दर्द निकलता नहीं दुख की इस घड़ी में वह शहीद रशीद के परिवार के साथ हैं।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *