लगातार घाटे में रहने के कारण फतेहपुर में आरटीडीसी की होटल को बंद किया

जयपुर, 28 फरवरी (का.सं.)। ग्रामीण विकास एवं पंचायत राज मंत्री राजेन्द्र राठौड़ ने बुधवार को विधानसभा में कहा कि सीकर जिले के फतेहपुर में राजस्थान पर्यटन विकास निगम (आरटीडीसी) की होटल को लगातार घाटे में रहने के कारण बंद किया गया है। राठौड़ ने शून्यकाल के दौरान इस संबंध में उठे मुद्दे पर हस्तक्षेप करते हुए पर्यटन राज्य मंत्री की ओर से कहा कि 2013-14 से अब तक आरटीडीसी को कुल 154 करोड़ रुपए का घाटा हुआ है। राज्य सरकार ने पिछले साल 10 नवम्बर को नीतिगत निर्णय लेते हुए लगातार घाटे में चल रहे आरटीडीसी की 15 यूनिट को बन्द किया। इससे पहले भी आर्थिक घाटे के कारण आरटीडीसी के 40 होटल-मोटल को बन्द किया गया है। उन्होंने बताया कि इन यूनिटों को बन्द करने से सरपल्स हुए 363 कर्मचारियों को हटाया नहीं जाएगा। इनसे विकल्प पत्र भरवाकर अन्य सरकारी विभागों में समायोजित किया जाएगा। राजेन्द्र राठौड़ ने बताया कि पर्यटकों की आवक कम होने एवं लगातार घाटे में चलने के कारण फतेहपुर में संचालित होटल को बन्द किया गया है। यह होटल वर्ष 2007-08 में 6.67 लाख, 2008-09 में 10.96 लाख, 2009-10 में 18.02 लाख, 2010-11 में 15.25 लाख, 2012-13 में 16.09 लाख, 2013-14 में 17 लाख, 2014-15 में 18 लाख एवं 2015-16 में 9 लाख रुपए के घाटे में रही।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *