अलीबाबा की सहयोगी कंपनी ऐंट फाइनेशल में लगभग 1008 करोड़ रुपये का निवेश करेगा रतन टाटा का फंड

बेंगलुरु। दुनिया की बड़ी टेक्नॉलजी कंपनी और चीन के अलीबाबा ग्रुप की सहयोगी ऐंट फाइनैंशल सर्विसेज में रतन टाटा का वेंचर फंड RNT कैपिटल अडवाइजर्स लगभग 1008 करोड़ रुपये का इन्वेस्टमेंट करेगा। RNT कैपिटल को यूनिवर्सिटी ऑफ कैलिफोर्निया की इन्वेस्टमेंट यूनिट की फंडिंग भी हासिल है। यह ऐंट फाइनैंशल के लिए लगभग 672-806 अरब रुपये के फंडिंग राउंड का हिस्सा होगा। इसमें कंपनी की वैल्यू लगभग 10,080 अरब रुपये लगने की संभावना है। इससे यह वैल्यूएशन के लिहाज से ऐप के जरिए कैब सर्विसेज देने वाले ऊबर को पीछे छोड़ देगी, जिसकी वैल्यू 4,704 अरब रुपये है। डील की जानकारी रखने वाले एक सूत्र ने बताया, ‘फंडिंग राउंड काफी ओवरसब्सक्राइब हुआ है और टाटा एकमात्र भारतीय इनवेस्टर हैं।’ 10,080 अरब रुपये के वैल्यूएशन पर RNT को ऐंट फाइनैंशल में लगभग 0.1 पर्सेंट स्टेक मिलेगा। फंडिंग राउंड के अन्य बिडर्स में सिंगापुर की सरकारी इन्वेस्टमेंट कंपनी टेमासेक होल्डिंग्स, अमेरिका के प्राइवेट इक्विटी फंड वॉरबर्ग पिंकस और कार्लाइल और कनाडा की पेंशन फर्म CPPIB शामिल हैं। ऐंट फाइनैंशल के लिए वैल्यूएशन में यह बढ़ोतरी एक बड़ी उपलब्धि है। यह अगले वर्ष आईपीओ ला सकता है। 2016 में पिछले फंडिंग राउंड के दौरान इसकी वैल्यू 4,032 अरब रुपये लगी थी। ऐंट फाइनैंशल के एक प्रतिनिधि ने इस बारे में ईटी की ओर से भेजे गए प्रश्नों पर कहा, हम मार्केट की अटकलों पर टिप्पणी नहीं करते।RNT कैपिटल के आर वेंकटरामन और मयंक सिंघल ने ईटी की ईमेल का जवाब नहीं दिया। यूनिवर्सिटी ऑफ कैलिफोर्निया-RNT फंड ने इससे पहले ऐप के जरिए कैब सर्विसेज देने वाली ओला में भी इन्वेस्टमेंट किया था। इसके अन्य इनवेस्टमेंट्स में मोबाइल पॉइंट-ऑफ-सेल्स कंपनी एमस्वाइप और हेल्थकेयर स्टार्टअप क्योरफिट शामिल हैं। ऐंट फाइनैंशल में प्रपोज्ड इन्वेस्टमेंट यूनिवर्सिटी ऑफ कैलिफोर्निया-RNT फंड का भारत के बाहर यह पहला इन्वेस्टमेंट होगा। ऐंट फाइनैंशल की डिजिटल पेमेंट सर्विस अलीपे प्रत्येक तीन महीने में लगभग 162 लाख करोड़ रुपये की मोबाइल पेमेंट दर्ज करती है और इसके पास करीब 87 करोड़ कस्टमर हैं। रिस्क कैपिटल इन्वेस्टर्स का मानना है कि इस इन्वेस्टमेंट से RNTकैपिटल अडवाइजर्स को अधिक स्टेक नहीं मिलेगा, लेकिन इससे यह संकेत मिल रहा है कि ऐंट फाइनैंशल का टाटा की साख पर भरोसा है और वह भारतीय इन्वेस्टर्स को अपने साथ जोडऩा चाहता है। टाटा के लिए यह चीन की बड़ी टेक्नॉलजी कंपनियों में दूसरा इन्वेस्टमेंट होगा। उन्होंने 2015 में RNT असोसिएट्स के जरिए स्मार्टफोन मेकर शाओमी में व्यक्तिगत हैसियत से निवेश किया था। टाटा ने RNT असोसिएट्स के जरिए स्टार्टअप्स में व्यक्तिगत तौर पर इन्वेस्टमेंट करने की शुरुआत 2014 में की थी। वह अभी तक 30 से अधिक कंपनियों में इन्वेस्टमेंट कर चुके हैं। इनमें ई-कॉमर्स, पेमेंट्स और इलेक्ट्रिक वीइकल से जुड़ी कंपनियां शामिल हैं। टाटा का इन्वेस्टमेंट देश की सबसे बड़ी डिजिटल पेमेंट सर्विस पेटीएम में भी है।

 

 

One thought on “अलीबाबा की सहयोगी कंपनी ऐंट फाइनेशल में लगभग 1008 करोड़ रुपये का निवेश करेगा रतन टाटा का फंड

  • June 11, 2018 at 2:37 am
    Permalink

    Hi, this weekend is good in favor of me, for the reason that this point in time
    i am reading this impressive informative

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *