जयपुर में पतंग का बुखार परवान पर

जयपुर, 6 जनवरी (एजेन्सी)। मकर संक्रांति आने में कुछ ही दिन बाकी रहे हैं, लेकिन पतंगबाजी का जोश परवान पर है, जयपुर का आकाश रंगबिरंगी पतंगों से अटा है। रेड बुल काइट फाइट जो कि एक वार्षिक पतंगबाजी है इसका लक्ष्य पूरे देश से सर्वश्रेष्ठ पतंगबाज को अपने इस चौथे संस्करण में खोजना है। फाइनल के लिए जयपुर से क्वालिफायर का चयन आज किया गया। रेड बुल काइट फाइट पारम्परिक पंतगबाजी को एक प्रतिस्पर्धा के रूप में बदल रहा है। इसके लिए क्वालिफायर्स को आखिरी खिलाड़ी के बचे रहने तक के फॉर्मेट में खेलना होगा। पिछले संस्करण की भांति इस बार भी प्रतियोगियों को पांच विभिन्न प्रकार की पतंगे दी जाएंगी जिससे पतंगबाज की सीमा और कौशल का पता चल सके। जयपुर क्वालीफायर ने 281 प्रभागों को 13 जनवरी 2018 को अहमदाबाद में फाइनल में जगह बनाने के लिए आसमानों से लड़ते देखा। नितेश पारीक, गुरजीत सिंह, रोहन सिंह मीणा, मनोज कुमार वाधवा और विशाल सेन ने रेड बुल काइट फाइट 2018 फ़ाइनल में अपनी जगह सुरक्षित रखी। इस जीत से उत्साहित हुए विजेता गुरजीत सिंह ने कहा कि ” मैं रेडबुल काइट फाइट 2018 के फाइनल के लिए क्वालिफाई के रूप में चुना गया हूं। यह काफी कठिन प्रतिस्पर्धा थी। अन्य पतंगबाज भी काफी हुनरमंद थे, लेकिन मैने अच्छी रणनीति अपनाई जिसकी वजह से मैं इस जीत को हासिल कर सका। खेल का यह फॉर्मेट काफी रोचक था। इसमें आप या तो पतंग को उचाइयों पर ले जाओ या फिर ढील देकर पतंग कटवाओ। यह पतंगबाज इस जीत से काफी खुश था और अब वह अहमदाबाद में होने वाले फाइनल जीतने की उम्मीद रखता है। चार शहरों के प्रतिभागी इस प्रतियोगिता में अपने पतंगबाजी के कौशल का प्रदर्शन करेंगे और महामुकाबले के बाद यह प्रतियोगिता सम्पन्न हो जाएगी। यह प्रतियोगिता उन सभी प्रतिभागियों के लिए खुली है जिनकी उम्र 16 वर्ष या उससे अधिक हो, क्वालिफायर राउण्ड जयपुर और वड़ोदरा में 6 जनवरी को तथा अहमदाबाद और सूरत में 07 जनवरी को क्वालिफायर राउण्ड्स होंगे। फाइनल मैच अहमदाबाद में 13 जनवरी, 2018 को होगा। इस वर्ष रेडबुल काइट फाइट में मुम्बई और दिगी के प्रतियोगियों को भी कॉलेज एक्टिवेशन में माध्यम से शामिल किया गया है।जिसमें प्रत्येक शहर के विजेता फाइनल के लिए अहमदाबाद तक सफर कर सकेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *