राजकोट टी20 : रोहित शर्मा बोले, बल्लेबाजी अच्छी दिखती है, तेज गेंदबाजी संयोजन पिच पर निर्भर

 

राजकोट, 6 नवम्बर (एजेंसी)। भारतीय कप्तान रोहित शर्मा ने गुरुवार को बांग्लादेश के खिलाफ होने वाले दूसरे टी20 मैच के लिए तेज गेंदबाजों के संयोजन में बदलाव का संकेत दिया। उन्होंने बल्लेबाजी लाइन-अप का बचाव किया जिसमें सीनियर सलामी बल्लेबाज शिखर धवन पिछले कुछ समय से जूझ रहे हैं। भारत ने कोटला की पिच पर 148 रन का स्कोर बनाया था और 19वें ओवर में तेज गेंदबाज खलील अहमद के ओवर में मुशफिकर रहीम द्वारा लगाई गई 4 बाउंड्री ने मैच का रूख ही बदल दिया। रोहित ने मैच से पूर्व कहा, ‘हमारी बल्लेबाजी अच्छी दिखती है। इसलिए मुझे नहीं लगता कि हमें अपनी बल्लेबाजी में कुछ बदलाव करने की जरूरत है। हम पिच का आकलन करेंगे और उसी के आधार पर हम देखेंगे कि बतौर टीम हम क्या कर सकते हैं। उन्होंने हालांकि किसी का नाम नहीं लिया लेकिन ऐसा हो सकता है कि शार्दुल ठाकुर को खलील की जगह उतारा जाए। कप्तान ने कहा, ‘पिछले मैच में हम जिस तेज गेंदबाजी संयोजन के साथ खेले थे, वो दिल्ली की पिच के हिसाब से था। हम फिर पिच देखेंगे और सोचेंगे कि अपने गेंदबाजी लाइन-अप में क्या करने की जरूरत है। रोहित को उम्मीद है कि राजकोट की पिच कोटला से कहीं बेहतर होगी। उन्होंने कहा, ‘पिच अच्छी दिखती है। राजकोट हमेशा ही बल्लेबाजी के लिए अच्छी पिच रही है और इससे गेंदबाजों को भी थोड़ी मदद मिलती है। यह अच्छी पिच होगी। मुझे पूरा भरोसा है कि आपने जो दिल्ली में देखा, यह उससे बेहतर होगी। रोहित ने रणनीति के बारे में बात करते हुए कहा, ‘आपको यह जरूर बता सकता हूं कि हमारे तरीके में थोड़ा बदलाव होगा। पिछले मैच में (दिल्ली टी20) में हम पिच के अनुसार खेले थे। पिच जैसा बर्ताव कर रही थी, हम उसके हिसाब से खेल रहे थे। लेकिन अगर राजकोट की पिच अच्छी है तो हमारा तरीका भी गेंदबाजी और बल्लेबाजी विभाग में थोड़ा अलग होगा। कप्तान को अपनी टीम से एकजुट प्रदर्शन की उम्मीद है। उन्होंने कहा, ‘बल्लेबाजों को अपना काम करने की जरूरत होगी और गेंदबाजों को अहम विकेट हासिल करने होंगे। इसी के हिसाब से खेलेंगे। हम किसी एक विभाग पर ध्यान नहीं लगा रहे हैं क्योंकि हम बतौर टीम हारे थे, व्यक्तिगत रूप से नहीं। रोहित ने कहा कि यह अहम है कि पिछले मैच की गलतियों को दोहराया नहीं जाए। उन्होंने कहा, ‘हम काफी विभाग में थोड़े कम रहे गए। यह महत्वपूर्ण है कि हम अपनी गलतियों पर ध्यान लगाएं और सुनिश्चित करें कि ये गलतियां दोबारा नहीं दोहराई जायें। यह अच्छी टीम का संकेत है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *