मार्च तिमाही में रेकॉर्ड घाटे से पीएनबी के शेयर धड़ाम

नई दिल्ली। वित्त वर्ष 2017-18 की आखिरी तिमाही में हुए रेकॉर्ड घाटे की खबर के बाद पंजाब नैशनल बैंक के शेयर आज शेयर बाजार के दोनों प्रमुख सूचकांकों पर धड़ाम हो गए। बुधवार को 10:22 बजे बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) पर पीएनबी के शेयर 11.63त्न टूट गए और प्रति शेयर 10 रुपये घटकर 76 रुपये रह गई। वहीं, नैशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) पर भी इसे 11.69त्न का झटका लगा और पीएनबी के शेयर की कीमत 10.05 रुपये घटकर 75.90 रुपये रह गई। आज एक वक्त ऐसा भी आया जब पीएनबी के शेयर एनएसई पर 52 हफ्ते के सबसे निचले स्तर 74.15 रुपये पर आ गए। वहीं, बीएसई पर भी इसने यही रेकॉर्ड बनाया और 52 हफ्ते के निचले स्तर पर आकर शेयर की कीमत 74.30 रुपये पर गिरी। दरअसल, पंजाब नैशनल बैंक को जनवरी-मार्च क्वॉर्टर में रिकॉर्ड तिमाही घाटा हुआ। वित्त वर्ष 2018 की चौथी तिमाही में उसका घाटा 13417 करोड़ रुपये रहा। 1,40,000 करोड़ रुपये के नीरव मोदी स्कैम के चलते ऐसा हुआ। पीएनबी ने सालभर पहले की जनवरी-मार्च तिमाही में 261.90 का स्टैंडअलोन प्रॉफिट दर्ज किया था। फाइनैंशल इयर 2018 का समापन पीएनबी ने 12,283 करोड़ रुपये के नेट लॉस के साथ किया। इससे पिछले वित्त वर्ष में उसे 1324.8 करोड़ रुपये का प्रॉफिट हुआ था। पीएनबी के बैड लोन यानी नॉन-परफॉर्मिंग ऐसेट्स की मात्रा मार्च 2018 तिमाही के अंत में बढ़कर 86620 करोड़ रुपये हो गई। इससे सालभर पहले आंकड़ा 55370 करोड़ रुपये का था। इसी दौरान नेट एनपीए 32702 करोड़ रुपये से बढ़कर 48684 करोड़ रुपये हो गया। स्टॉक एक्सचेंजों को दी गई जानकारी में पीएनबी ने बताया कि उसने चौथी तिमाही में 7178 करोड़ रुपये की प्रोविजनिंग की। यह रकम चौथी तिमाही में स्कैम के चलते बैंक को लगी 14356 करोड़ रुपये की चपत की आधी है। बाकी रकम के लिए प्रोविजनिंग मौजूदा फाइनेंशियल ईयर की तीन तिमाहियों में की जाएगी। बैंक का शेयर बीएसई पर 3.80 पर्सेंट गिरकर 86 रुपये पर बंद हुआ।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *