शेल पहली बार भारत में लेकर आया है मेक द फ्यूचर फेस्टिवल

नई दिल्ली, 21 जून (एजेन्सी)। शेल अपने शानदार आयोजन शेल ईको-मैराथन (एसईएम) को पहली बार भारत में लेकर आया है। एसईएम चैलेंजर मेक द फ्यूचर इंडिया का ही हिस्सा होगा जिसका आयोजन 6-9 दिसंबर, 2018 के बीच चेन्नई में किया जाएगा। शेल का मेक द फ्यूचर दुनिया की ऊर्जा संबंधी चुनौतियों के बारे में संवाद, सहयोग और नवोन्मेष के लिए एक वैश्विक प्लेटफॉर्म है। एसईएम को पहली बार 1939 में शुरू किया गया था जो दुनिया का सबसे बड़ी छात्र प्रतिस्पर्धा है जहां इंजीनियरिंग छात्रों को ईंधन-दक्ष गाडिय़ां डिजाइन करने, बनने और परीक्षण करने की चुनौती दी जाती है। भारतीय टीमें 2010 से हिस्सा ले रही हैं लेकिन यह पहला मौका है जब प्रतिस्पर्धा का आयोजन भारत में किया जा रहा है। पूरी दुनिया के देशों में आयोजित कार्यक्रमों के साथ उनका उद्देश्य छात्रों, उद्यमियों, कारोबारों, सरकारों और आम लोगों समेत विभिन्न पक्षों को एक अवसर मुहैया कराना है ताकि वे नई ऊर्जा संबंधी विचारों का अनुभव ले सकें, उनका परीक्षण कर सकें और उसमें योगदान दे सकें। भारतीय ट्रैक स्व’छ ऊर्जा समाधानों के लिए डेमो प्रदर्शित करेंगे; भारत की प्रगति को गति देने के बारे में चर्चा-सफलता के लिए नवोन्मेष, चुनौतियां और अवसरों के साथ साझेदारी। यह छात्र टीमों के लिए भी शेल ईको-मैराथन एशिया 2019 के लिए अपने वाहनों का परीक्षण करने और उन्हें बेहतर बनाने का एक शानदार अवसर है। पहली बार हिस्सा लेने वालों के लिए यह कुशलता का प्रदर्शन करने, विश्वस्तरीय अनुभव का हिस्सा बनने और एक पेशेवर सर्किट पर साथी प्रतिस्पर्धियों के साथ अपने वाहन का परीक्षण करने का एक बेहतरीन प्लेटफॉर्म होगा। छात्र टीमों को कम ईंधन में अधिक दूरी तय करने के पैमाने पर परखा जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *