कौशल एवं रोजगार मंत्री अशोक चांदना ने किया डीएसईई का किया दौरा

जयपुर, 29 दिसम्बर (एजेन्सी)। राजस्थान सरकार के कौशल, रोजगार एवं उद्यमिता मंत्री, अशोक चांदना ने जयपुर में झालाना सांस्थानिक क्षेत्र में स्थित कौशल भवन का दौरा किया। कौशल, रोजगार एवं उद्यमिता विभाग (डीएसईई) के सचिव तथा राजस्थान कौशल एवं आजीविका निगम (आरएसएलडीसी) के चेयरमेन, राजेश यादव; डीएसईई के निदेशक एवं संयुक्त सचिव तथा आरएसएलडीसी के प्रबंध निदेशक, निकिया गोहाऐन और डीएसईई टीम द्वारा उनका स्वागत किया गया। इस अवसर पर मंत्री ने आरएसएलडीसी के अधिकारियों के साथ परिचयात्मक बैठक ली। उन्होंने युवाओं के कौशल को रोजगार के अवसरों से जोडऩे के लिए कौशल विकास को और अधिक बेहतर करने के तरीकों पर चर्चा की। उन्होंने कहा कि उन्हें युवाओं से सम्बंधित दो महत्वपूर्ण विभागों की जिम्मेदारी दी गई है। उन्होंने डीएसईई के कार्यों को पूरी शक्ति के साथ आगे बढ़ाने की इच्छा व्यक्त की। चांदना ने कहा कि रोजगार एवं कौशल परस्पर जुड़े हुए हैं और राज्य के युवाओं में निराशा के लिए बेरोजगारी सबसे महत्वपूर्ण कारण है, इसलिए इसका समाधान करने की गंभीर आवश्यकता है। मंत्री ने यह सुनिश्चित किया कि विभाग की सभी पहलों को आगे बढ़ाने में उनका हमेशा पूर्ण सहयोग रहेगा। उन्होंने आगे कहा कि युवा होने के नाते मैं युवाओं की चिंताजनक स्थिति को बहुत अच्छी तरह से समझ सकता हूं, चाहे वह सामाजिक कारणों से हो अथवा आर्थिक कारणों से। डीएसईई के सचिव, राजेश यादव और आरएसएलडीसी के प्रबंध निदेशक, निकिया गोहाऐन ने विभाग के बारे में ब्रीफ प्रजेंटेशन दिया और मंत्री को विभाग की प्रगति एवं आगामी योजनाओं एवं गतिविधियों से अवगत कराया। राजेश यादव ने कहा कि विदेश जाने वाले युवाओं को प्रस्थान से पूर्व की सहायता के लिए पूर्व में आरएसएलडीसी के तत्वावधान में ओवरसीज प्लेसमेंट ब्यूरो (ओपीबी) की शुरूआत की गई थी, लेकिन हाल के वर्षों में इसे राजस्थान से बाहर जाकर कार्य करने वाले श्रमिकों की शिकायतों के निवारण में सहायता करने वाली एजेंसी के रूप में भी पहचान मिली है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *