लॉक डाउन के दौरान कोई गरीब व मजदूर वर्ग का व्यक्ति भूखा न सोए-मेघवाल

जयपुर, 23 मार्च (का.सं.)। सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री मा. भंवरलाल मेघवाल ने सोमवार को चूरू जिले के सुजानगढ स्थित जयनिवास में आवश्यक सेवाओं से जुड़े अधिकारियों की बैठक में कहा कि जिले में लॉक डाउन के दौरान कोई गरीब व मजदूर वर्ग का व्यक्ति भूखा न सोएं एवं उन्हें समय पर राशन सामग्री मुहैया कराना सुनिश्चित करें। सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री ने लोकल एडवाईजरी जारी कर लोगों को आवश्यक रूप से घर से बाहर नहीं निकलने की अपील की। उन्होंने सोमवार को चूरू व उदयपुर जिला कलक्टर से दूरभाष पर वार्ता कर भारत के बाहर से आए स्थानीय लोगों की तत्काल स्वास्थ्य परीक्षण करवाने के निर्देश दिए हैं। मेघवाल ने चूरू व उदयपुर के जिला कलक्टर को निर्देशित किया है कि हर पंचायत के उप स्वास्थ्य केंद्र में तैनात चिकित्सक, नर्स व ग्राम पंचायत के पटवारी, ग्राम विकास अधिकारी अपना हैड क्वार्टर नहीं छोड़ें व बाहर से आये लोगों की जानकारी तुरन्त चिकित्सा विभाग को देें। उन्होंने सुजानगढ़ उपखण्ड अधिकारी रतनलाल स्वामी, बीदासर उपखण्ड अधिकारी श्योराम वर्मा, डीवाईएसपी नरेंद्र शर्मा को सुजानगढ़ की सीमाएं सील करने के निर्देश दिए। उन्होंने सब्जी मंडी व राशन की दुकानों का समय तय करते हुए उन्हें सुबह 10 से 12 बजे तक ही दुकान खोलने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने इस महामारी को रोकने के लिए अधिकारियों के साथ सामाजिक संगठनों व एनजीओ की मदद लेने का कहा है। कोरोना की रोकथाम के लिए मंत्री मा. मेघवाल ने नगर परिषद सुजानगढ़ व बीदासर पालिकाध्यक्ष को शहर में मास्क वितरित करने के लिए तत्काल मास्क खरीदने के निर्देश दिए। उन्होंने सुजानगढ़ थानाधिकारी मनोज कुमार को लॉकडाउन के दौरान खुली होटलें, मीट की दुकानें व चाय की दुकानों को बंद करवाने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने जिला कलेक्टर संदेश नायक को चिकित्सा विभाग व नगर परिषद व नगरपालिकाओं में कोरोना की रोकथाम में बेहतर कार्य करने वाले अधिकारियों को भी प्रशस्ति पत्र व पारितोषिक देकर सम्मानित करने के निर्देश दिए। सामाजिक न्याय मंत्री ने कलक्टर से ग्रामीण क्षेत्रों में कोरोना की रोकथाम के लिए लोगों को जागरूकता के लिए प्रचार-प्रसार करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने आमजन से अफवाहों से बचने की अपील करते हुए 31 मार्च तक लॉक डाउन का समर्थन करते हुए घर में रहने की अपील की। उन्होंने फील्ड में काम कर रहे अधिकारियों को मास्क का उपयोग करने व पूर्णतया सावधानी रखने के लिए कहा। सामाजिक न्याय मंत्री ने सुजानगढ के प्रमुख चिकित्सा अधिकारी को चिकित्सालयों में पर्याप्त दवा उपलब्ध रखने के निर्देश देते हुए कहा कि मरीज के साथ अनावश्यक भीड़ न हो तथा चिकित्सा स्टाफ पूर्णतया मुस्तैद रहना चाहिए। उन्होंने कहा कि सरकारी व निजी अस्पतालों में इमरजेंसी होने पर ही सर्जरी की जाये। इस अवसर पर सुजानगढ़ उपखण्ड अधिकारी रतन कुमार, बीदासर उपखण्ड अधिकारी श्योराम वर्मा सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *