सोनम का खुलासा, कहा भंसाली को जैसी एक्ट्रेस चाहिए वैसी मैं तो…

सोनम कपूर ने 2007 में संजय लीला भंसाली की फिल्म ‘सांवरिया’ से डेब्यू किया था। फिल्म बॉक्स ऑफिस पर कुछ खास कमाल नहीं दिखा पाई थी। फिल्म में सोनम के साथ रणबीर कपूर लीड रोल में थे। हालांकि इस फिल्म के बाद सोनम और भंसाली ने दोबारा साथ काम नहीं किया। एक साइट को दिए इंटरव्यू के दौरान सोनम ने इस बात का खुलासा किया कि क्यों उन्होंने अभी तक भंसाली के साथ काम नहीं किया।सोनम ने इंटरव्यू के दौरान कहा, ‘मुझे नहीं लगता कि जैसे एक्टर्स भंसाली को चाहिए मैं वैसी हूं। बस यही बात है। मैं उनकी शुक्रगुजार हूं कि मेरा डेब्यू उनकी फिल्म से हुआ। हां अगर कभी उन्हें लगा कि मैं उनकी फिल्म में किसी रोल के लिए फिट हूं तो मुझे पूरा यकीन है कि वो मुझे फिर से कास्ट करेंगे।’पैडमैन में सोनम के सीन्स बहुत कम दिखे हैं। इसके बारे में सोनम कपूर ने खुलासा करते हुए कहा कि फिल्म को छोटा करने के लिए उनके रोल को काटा गया। सोनम ने कहा, ‘मेरे रोल को एडिट किया गया ताकि फिल्म की लंबाई छोटी हो सके। अंत में जो हम कहना चाहते थे अगर वो अगर सही से कह पाए हैं तो मुझे लगता है कि सब ठीक है। बॉलीवुड सेलिब्रिटीज को देखकर हर किसी की यही इच्छा होती है कि वो भी उनके जैसी खूबसूरत लगे। लेकिन लाख कोशिशों के बाद भी वो वैसा लुक नहीं आ पाता, जो सेलिब्रिटीज के फेस पर दिखता है। लेकिन सेलिब्रिटीज की खूबसूरती के पीछे छिपे राज के बारे में बॉलीवुड एक्ट्रेस सोनम कपूर ने खुद खुलासा किया है। उन्होंने बताया है कि लोगों के सामने आने से पहले उन्हें क्या-क्या करना पड़ता है। सुंदर दिखने के पीछे सिर्फ मेकअप ही नहीं और भी कई चीजें होती हैं, जितना उन्हें ध्यान रखना पड़ता है। सोनम ने कहा कि हर लड़की शीशे के सामने खड़ी होकर खुद को देखती हुई यही सोचती है कि वो सेलिब्रिटी की तरह क्यों नहीं दिखती। तो उन लड़कियों को मैं बता दूं कि कोई भी सेलिब्रिटी उठने के बाद ऐसा नहीं दिखता, जैसा आप सोचती हैं। कोई भी एक्ट्रेस नहीं। सच्चाई ये है कि लोगों के सामने आने से पहले मुझे 90 मिनट मेकअप चेयर पर बिताने पड़ते हैं। तीन से छह लोग मेरे बाल और मेकअप पर काम करते हैं, जबकि कुछ प्रोफेशनल्स मेरे नेल्स को शेप करते हैं। मेरे आईब्रो को हर हफ्ते शेप दी जाती है। मेरे बॉडी के भागों पर कन्सीलर यूज किया जाता है, जहां मैंने कभी सोचा भी नहीं था कि कन्सीलर की जरूरत होगी। अच्छी बॉडी के लिए मुझे सुबह 6 बजे उठना पड़ता है और 7:30 तक जिम में रहती हूं। मैं नियमित रूप से 90 मिनट एक्सरसाइज करती हूं और कुछ शाम को एक्सरसाइज करनी पड़ती है। और इसके बाद सोने जाने से पहले भी बॉडी को फिट रखने के लिए एक्सरसाइज करती हूं। इतना ही नहीं, मुझे पूरा दिन क्या खाना है और क्या नहीं इसके लिए पूरा दिन एक व्यक्ति मेरे साथ रहता है, जो ये डिसाइड करता है। मेरे खाने में इतनी चीजें शामिल नहीं होती, जितनी मेरे फेस पैक में शामिल होती हैं। वहीं एक टीम मेरे कपड़े डिसाइड करने के लिए होती है। इतना होने के बावजूद भी अगर मेरे सुंदर नहीं लगती, तो फोटो को कई तरीकों से फोटोशॉप किया जाता है। मैं पहले भी कहती आई हूं और अब भी कह रही हूं कि सेलिब्रिटी के लुक के लिए बहुत सी टीम, बहुत सारे पैसे, बहुत टाइम लगता है, तब आपके सामने सेलिब्रिटी लुक आ पाता है। जो आप देख रहे हैं वे सच्चाई नहीं है। अगर आप अगली बार किसी 13 साल की लड़की को मैगजीन के कवर पर बॉलीवुड एक्ट्रेस को उत्साह के साथ निहारते हुए देखते हैं तो उसके दिमाग में चल रहे मिथ को तोडऩा न भूलें। उसको बताएं कि वो खुद कितनी खूबसूरत है। उसकी मुस्कान, उसकी हंसी और उसके दिमाग की तारीफ करें। उसके दिमाग में ये किसी भी तरह न आने दें कि वो खूबसूरत नहीं है या उसमें कोई कमी नहीं है।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *