कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से बचाने के लिये रेलवे के विशेष प्रयास

Special efforts by the Railways to prevent the spread of corona virus
Special efforts by the Railways to prevent the spread of corona virus

जयपुर, 28 मार्च (का.सं.)। रेलवे ने देश में कोरोना वायरस के बढते संक्रमण को देखते हुये सभी यात्री रेलसेवाओं के संचालन का संचालन बंद कर दिया गया है। देश के विभिन्न भागो में आवष्यक सामग्री की आपूर्ति के लिये मालगाडियों का संचालन जारी है, जिसके संचालन के लिये रेलवे के कर्मचारी पूर्ण निष्ठा के साथ अपनी ड्यूटी कर रहे है। आवश्यक सेवाओं से जुडे रेलकर्मियों के स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुये अनेक कदम उठाये है, जिनमें प्रमुख है- सभी चेंजिग पोइण्टस पर लोको (इंजन) को सैनिटाइज किया जा रहे है, इसके साथ ही स्टेबल किये गये लोको भी सैनिटाइज करके रखे गये है। यह कार्य लोको पायलेटस की देख-रेख में किया जा रहा है। रनिंग रूम में वर्तमान में आक्यूपेंसी कम है, इसको ध्यान में रखकर सबको अलग-अलग कमरें आंवटित किये जा रहे है, ताकि सोषल डिस्टेंस का ध्यान भी रखा जा सकें। इसके साथ ही रनिंग रूम के परिसर व किचन में हाइपो सोल्यूषन से नियमित मोपिंग की जा रही है। नियमित अंतराल पर कमरों, डोर हैण्डल, रैलिंग, टेबल व कुर्सियों इत्यादि को भी हाइपो सोल्यूषन से सैनिटाइज किया जा रहा है। रनिंग रूम में सोषल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखते हुये लोको पायलेटस को खाना सर्व भी क्रमवार तरीके से किया जा रहा है। लॉबी में सैनिटाइजर, साबुन की पर्याप्त उपलब्धता है, जिससे सभी सफाई का उचित ध्यान रख रहे है। इसके साथ ही डिस्टेंसिंग को ध्यान में रखते हुये रस्सी के माध्यम से दूरी बनी रहे, इसका ध्यान रखा जा रहा है। रेलवे द्वारा इन हाउस यूज के लिये मास्क तथा सैनिटाइजर बनाये गये है, जो रेल संचालन से जुडे कर्मचारियों तथा इंजीनियरिंग विभाग में कार्यरत कर्मचारियों को प्रदान किये गये है। उत्तर पष्चिम रेलवे द्वारा निरंतर सेवा प्रदान करने वाले रेलकर्मियों के लिये 4200 से अधिक मास्क, 700 लीटर से ज्यादा सैनिटाइजर तथा इसके साथ ही एप्रॉन, कैप इत्यादि तैयार किये गये है। रेलवे का प्रयास है कि देष में आवष्यक सामग्री की आपूर्ति निर्बाध रूप से की जाये, इसके साथ ही इन परिस्थितियों में कार्य कर रहे अपने रेलकर्मियों के स्वास्थ्य का भी ध्यान रखा जाये इसके लिये पर्याप्त और उचित व्यवस्थाएं की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *