श्रीगंगानगर बार संघ के चुनाव सम्पन्न नितिन वाट्स अध्यक्ष और प्रेमदीप सैन उपाध्यक्ष

 

श्रीगंगानगर, 12 दिसम्बर (नि.स.)। श्रीगंगानगर बार संघ के नये अध्यक्ष नितिन वाट्स और उपाध्यक्ष प्रेमदीप सैन चुने गये हैंं। मंगलवार को बार संघ के चुनाव काफी गहमागहमी और जबरदस्त सरगर्मियों में सम्पन्न हुए। अध्यक्ष पद पर नितिन वाट्स ने अपने मुकाबिल जसवीर सिंह मिशन को तथा उपाध्यक्ष पद पर प्रेमदीप सैन ने नीरज गोयल एवं ‘योति गोस्वामी को पराजित किया। चुनाव अधिकारी चरणदास कम्बोज एडवोकेट ने सायं 5 बजे मतगणना पूरी होने पर बताया कि कुल 942 में से 834 सदस्य वकीलों ने मताधिकार का प्रयोग किया। इनमें से तीन मत निरस्त करार दिये गये। अध्यक्ष पद के लिए नितिन वाट्स को 498 और जसवीर सिंह मिशन को 333 वोट प्राप्त हुए। नितिन वाट्स 165 मतों के अंतर से चुनाव जीत गये। एडवोकेट कम्बोज ने बताया कि उपाध्यक्ष पद के लिए प्रेमदीप सैन को 346, नीरज गोयल को 247 और ‘योति गोस्वामी को 239 वोट प्राप्त हुए। इस प्रकार प्रेमदीप सैन 99 वोटों से विजयी रहे। इससे पहले सुबह 10 बजे मतदान आरम्भ हुआ। इस बार सदस्य वकीलों की संख्या अत्यधिक देखते हुए दो मतदान केन्द्र बनाये गये। सायं 4 बजे तक मतदान करवाया गया। मतदान के दौरान अध्यक्ष और उपाध्यक्ष पद के सभी पांचों प्रत्याशी अन्तिम क्षण तक वोट के लिए वकीलों से सम्पर्क साधते रहे। दिनभर कचहरी परिसर में जयगोपाल मल्होत्रा स्मृत्ति सभागार मेें वोट डाल लिये जाने के दौरान वकीलों की गतिविधियां चरम पर रहीं। एक-एक वोट के लिए प्रत्याशियों ने पूरा जोर लगाया। शाम 5 बजे जैसे ही चुनाव अधिकारी चरणदास कम्बोज और सहायक चुनाव अधिकारी सुरेश अरोड़ा ने परिणामों की घोषणा की, नितिन वाट्स और प्रेमदीप सैन व इनके समर्थकों में खुशी की लहर दौड़ गई। दोनों प्रत्याशियों का फूल-मालाओं से स्वागत किया गया। रंग-गुलाल उड़ाया गया और ढोल की ताल पर समर्थक नाच उठे। दोनों प्रत्याशियों ने कचहरी परिसर से विजयी जुलूस निकाला। बता दें कि नितिन वाट्स पिछली बार भी अध्यक्ष पद के लिए मैदान में उतरे थे, लेकिन तब वे अजय मेहता से हार गये थे। जसवीर मिशन भी इससे पहले एक बार उपाध्यक्ष का चुनाव लड़ चुके हैं।

नये कोर्ट कॉम्पलेक्स को प्राथमिकता : बार संघ के नवनिर्वाचित अध्यक्ष नितिन वाट्स ने कहा है कि अपने कार्यकाल में उनकी सर्वाेगा प्राथमिकता नये कोर्ट कॉम्पलेक्स का निर्माण कार्य शुरू करवाना होगा। नया कोर्ट कॉम्पलेक्स, पुरानी शुगर मिल वाली जगह पर बनाया जाना प्रस्तावित है। पिछले सप्ताह हाईकोर्ट ने इस जगह कोर्ट कॉम्पलेक्स बनाये जाने को अपनी मंजूरी दे दी। श्री वाट्स ने कहा कि उनकी पहली प्राथमिकता इस कोर्ट कॉम्पलेक्स के निर्माण कार्य का शिलान्यास करवाना और फिर जल्द से जल्द इसके लिए बजट मंजूर करवाकर निर्माण कार्य शुरू करवाने की रहेगी। साथ ही वे अपनी कार्यकारिणी को साथ लेकर नये कोर्ट कॉम्पलेक्स में नये न्यायालयों की मंजूरी दिलवाने, इस कॉम्पलेक्स में सभी वकीलों के लिए अलग-अलग चैम्बर का निर्माण करवाना भी प्राथमिकताओं में रहेगा। नये और जूनियर वकीलों की समस्याओं का भी वे समाधान करवायेंगे। श्री वाट्स ने कहा कि- वे चाहते हैं कि स्थानीय वकीलों के वैलफेयर के लिए स्थानीय स्तर पर अलग से एक फंड स्थापित किया जाये। कार्यकारिणी गठित होने पर वे इस बारे में सबके साथ विचार विमर्श कर इस फंड की स्थापना की रूपरेखा तय करेंगे। श्री वाट्स ने कहा कि जल्दी ही वे अपनी कार्यकारिणी की घोषणा करेंगे। बता दें कि नितिन वाट्स के नेतृत्व वाली नई कार्यकारिणी न्यायालयों में शीतकालीन अवकाश के बाद नये वर्ष के प्रथम सप्ताह में अपना कार्यभार ग्रहण करेगी।

25 से न्यायालयों में शीतकालीन अवकाश

आगामी 25 दिसम्बर से न्यायालयों में एक सप्ताह के लिए शीतकालीन अवकाश रहेगा। चूंकि 24 दिसम्बर को रविवार है, इसलिए 23 दिसम्बर शनिवार को न्यायालयों में शीतकालीन अवकाश से पहले अन्तिम कार्यदिवस होगा। शीतकालीन अवकाश के बाद न्यायालयों में दो जनवरी से सामान्य कामकाज पुन: आरम्भ होगा। इस एक सप्ताह के अवकाश के दौरान जरूरी कार्यांे के निस्तारण के लिए जिला मुख्यालय पर एक न्यायिक अधिकारी की उपस्थिति रहेगी।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *