शोधार्थियों के लिए शोध कार्यशाला का किया गया सफल आयोजन

 

हनुमानगढ़, 11 मार्च (एजेन्सी)। श्री खुशाल दास विश्वविद्यालय के प्रांगण में रिसर्च सैल के संयोजन में शोध कार्यशाला का आयोजन किया गया। जिसमें वर्तमान समय में शोध के महत्व व शोध कार्य करने के लिए शोधार्थियों को प्रोत्साहित किया गया। कार्यशाला के सफल आयोजन पर चेयरपर्सन (कुलाधिपति) दिनेश जुनेजा व प्रैजीडेंट (कुलपति) डॉ. कबीर शर्मा ने शोधकर्ताओं को ज्यादा से ज्यादा गुणवत्तापूर्ण शोध कार्य करने के लिए कहा। कार्यशाला का शुभारम्भ विश्वविद्यालय के शोध निदेशक डॉ. संजीव अग्रवाल एवं विशेष तौर पर आमंत्रित डॉ. श्याम सुन्दर व डॉ. आशीष अरोड़ा, डॉ. विक्रम सिंह औलख डीन फैकल्टी ऑफ एजूकेशन, डॉ स्वाति जोशी कुल सचिव, डॉ. कोविद कुमार परीक्षा नियंत्रक एवं छात्र अधिष्ठाता द्वारा किया गया। कार्यशाला में रिसोर्स पर्सन के रूप में आए हुए डॉ. श्याम सुन्दर ने शोधार्थियों को सम्बोधित करते हुए शोध के लिए प्राथमिक, द्वितीय व तृतीय स्त्रोतों से डाटा को इक_ा करना व उन्हें अपने शोध कार्य के लिए विभिन्न शोध उपकरणों का प्रयोग करने की जानकारी दी। डॉ. आशीष अरोड़़ा ने शोधार्थियों को सम्बोधित करते हुए कम्प्यूटर अनुप्रयोग का शोध में महत्व पर बल दिया। उन्होंने बताया कि आज शोधार्थियों को ऑक्सफोर्ड, कैम्ब्रिज व दिगी विश्वविद्यालय में उपलब्ध किताबों को पढऩे के लिए ऑनलाईन एक्सेस की सुविधा के बारे में बताया जिससे शोधार्थियों के अमूल्य समय की बचत होती है। डॉ. विक्रम सिंह औलख ने शोधार्थियों को शोध के विभिन्न प्रकारों के बारे में जानकारी दी। कार्यशाला के अन्त में धन्यवाद ज्ञापन देते हुए डॉ. कोविद कुमार ने कहा कि श्री खुशाल दास विश्वविद्यालय के छात्रों के लिए आयोजित विशेष शोध कार्यशाला से शोधार्थियों को लाभ होगा। उन्होंने बाहर से आए हुए रिसोर्स पर्सन, विश्वविद्यालय प्रशासन का विशेष तौर पर धन्यवाद ज्ञापित किया। इस कार्यशाला में विभिन्न विषयों के 85 से अधिक शोधार्थियों ने भाग लिया। इनका भी विशेष धन्यवाद व आशा व्यक्त की गयी कि इनके शोध कार्य समाज व देश को नयी दिशा प्रदान करेंगें।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *