कर्ज चुकाने के लिए संपत्ति बेच सकती है टाटा स्टील

 

मुंबई। टाटा स्टील यूरोप (टीएसई) के थायसनक्रप यूरोप के साथ मर्जर प्रस्ताव को रद्द करने के बाद टाटा संस और टाटा स्टील को कर्ज घटाने की योजना पर नए सिरे से काम करना पड़ सकता है। कुछ बड़े अधिकारियों ने बताया कि टाटा स्टील का कर्ज घटाने के लिए कुछ अंतरराष्ट्रीय मार्केट से निकलने के साथ अच्छी-खासी संपत्ति बेची जा सकती है। इनमें से एक ने बताया कि टाटा स्टील के लिए तुरंत का एक विकल्प यह हो सकता है कि वह ग्रुप की कंपनी टाटा कंसल्टंसी सर्विसेज (टीसीएस) के शेयर बेचे। वह पहले भी टीसीएस के शेयर बेच चुकी है। टाटा स्टील पर एक लाख करोड़ रुपये से अधिक का कर्ज है। मार्केट ऐनालिस्टों का मानना है कि इसे कम करने को लेकर कंपनी के पास सीमित विकल्प हैं और वे इससे चिंतित हैं। कंपनी ने अपनी बैलेंस शीट से 17,500 करोड़ का कर्ज टीएसई-थायसनक्रप जॉइंट वेंचर को ट्रांसफर करने की योजना बनाई थी, जो अब पूरी नहीं की जा सकती। उन्होंने बताया कि इससे टाटा स्टील की ग्रोथ प्लान पर भी बुरा असर पड़ सकता है। एक सूत्र ने बताया, ‘दो साल पहले कंपनी राइट्स इशू लेकर आई थी। मुश्किल में पडऩे पर वह फिर से ऐसा इशू ला सकती है।’ उन्होंने कहा, ‘टाटा स्टील का शेयर अभी 487 रुपये पर ट्रेड कर रहा है, जबकि दो साल पहले राइट्स इशू 510 रुपये प्रति शेयर पर लाया गया था। कंपनी ने उसके बाद फरवरी 2018 में पार्शियली पेड शेयर 615 रुपये के भाव पर इशू किए थे। उसके बाद टाटा स्टील का स्टॉक 720 रुपये तक गया था। अगर फिर से राइट्स इशू लाया जाता है तो इशू में पार्टिसिपेट करने वाले माइनॉरिटी शेयरहोल्डर्स नाराज होंगे।’ टाटा स्टील यूरोप और थायसनक्रप ने पिछले शुक्रवार को बताया था कि वे मर्जर की योजना को रद्द कर रहे हैं क्योंकि इसे यूरोपियन कमीशन से मंजूरी मिलने की उम्मीद नहीं है। टाटा स्टील ने कोरस को साल 2007 में 13 अरब डॉलर में खरीदा था। उस समय ग्लोबल स्टील इंडस्ट्री काफी मजबूत थी। इसलिए कोरस के लिए कंपनी को ऊंची कीमत चुकानी पड़ी थी। पिछले साल कंपनी ने हालिया स्टील साइकल के पीक पर भूषण स्टील की संपत्ति खरीदी। साटा स्टील ने इसके लिए 35,200 करोड़ रुपये चुकाए। इस वैल्यूएशन को भी कई लोगों ने अधिक माना था। हालांकि, टाटा स्टील भारतीय बाजार पर ध्यान देना चाहती है और उसकी खातिर कंपनी ने यह एक्विजिशन किया था।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *