वेदपीठ पर ठाठ बाट से मना दीपोत्सव पर्व

निम्बाहेड़ा, 10 नवम्बर (एजेन्सी)। मेवाड के प्रसिद्ध श्री शेषावतार कल्लाजी वेदपीठ पर पांच दिवसीय दीपोत्सव पर्व खूब ठाठ बाट से मनाया गया जिसमें हजारों लोगों ने अपने आराध्य के दर्शन कर स्वयं को धन्य किया। यहां धनतेरस पर्व पर धन के देवता कुबेर की पूजा की गई। वहीं रूप चतुर्दशी को ठाकुर जी का रजत श्रृंगार देखते ही बनता ही था। कार्तिक कृष्णा अमावस्या यानि दीपावली के दिन ठाकुर जी के दिन स्वर्ण आभा में श्रृंगार के दर्शनों के लिए कल्याण भक्तों की कतारें लगी रही। वहीं संध्या वेला में महाआरती के पश्चात ठाकुर जी का वैभव पूजन किया गया जिसमें वेदपीठ परिसर में ठाकुर जी के सप्त अश्वयुक्त रथ के साथ सैकडो कल्याणभक्तों के दुपहिया व चैपहिया वाहनों की सामुहिक पूजा की गई। दूसरी ओर वेदपीठ पर एकादश दिवसीय विशेष अनुष्ठान प्रारंभ किये गये जिसके तहत विष्णु सहस्त्र नाम तथा अथर्ववेद के वाणिज्य सुक्त के 21 – 21 हजार पाठ का शुभारंभ विधि विधान के साथ किया गया जो देवोत्थापन एकादशी तक जारी रहेगा। उसी दिन ठाकुरजी को छप्पन भोग न्योछावर करने के साथ ही भव्य अन्नकूट महोत्सव मनाया जायेगा।कल्याण गौशाला में की गोवर्धन पूजा दीपावली के द्वितीय दिवसीय यानि कार्तिक शुक्ला प्रतिपदा को कल्याण लोक स्थित कल्याण गौशाला में वेदपीठ के न्यासियों एवं कल्याण भक्तों के साथ ही आसपास के ग्रामीणों गोवर्धन पूजा पर्व पूरी श्रद्धा एवं उत्साह के साथ मनाया गया जिसके तहत भक्तों ने गौसेवा करते हुए गायो को पारंपरिक मिष्ठान एवं हरा चारा खिलाकर पूण्य अर्जन करते हुए गिरीराजधरण के रूप में गोवर्धन पूजा कर देश और प्रदेश में खुशहाली के साथ अन्नधन्न के भण्डार भरे रहने तथा वैदिक विश्वविद्यालय को शीघ्र प्रारंभ करने की कामना की गई। इस मौके पर गौशाला से जुडे राजेन्द्र श्रीवास्तव के नेतृत्व में आयोजित बैठक में गौशाला में 200 गोवंश के साथ इनकी संख्या 500 तक करने, गायो के लिए पर्याप्त चारा, पानी व उपचार की व्यवस्था पर चर्चा करते हुए अधिकाधिक लोगों को गौसेवा से जोडने का संकल्प लिया। बैठक में सनातन धर्म व संस्कार का निर्वहन करते हुए अधिकाधिक गौपालन, गौसंरक्षण व गौसेवा करने के साथ ही शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में गौवंश के पलायन को रोककर गौशालाओं में सुरक्षित रखने का संकल्प लिया गया। इस अवसर पर श्याम वैष्णव द्वारा 11 हजार, राजेन्द्र शारदा ने 21 हजार तथा बंटी समदानी ने गौशाला के लिए 31 हजार रूपये की राशि भेंट की।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *