यूरेका फोब्र्स के वाटर एटीएम से बदली लोगों की जिंदगी

जयपुर, 26 जून(एजेन्सी)। यूरेका फोब्र्स इंस्टीट्यूट ऑफ एनवॉयरमेंट ने समुदाय द्वारा संचालित एक पहल को शुरू किया है ताकि राज्य में प्रत्येक व्यक्ति को पीने का साफ पानी उपलब्ध कराया जा सके। इस पहल के हिस्से के तौर पर, राजस्थान के अलवर जिले में एक्वागार्ड वाटर एटीएम को लगाया गया है। यह वाटर स्टेशन लोगों को महज 50 पैसा प्रति लीटर में पीने के साफ पानी तक पहुंच प्रदान करते हैं। इस वाटर प्लांट से एक दिन में हर घंटे 1,000 लीटर तक पीने के शुद्ध पानी की आपूर्ति की जाती है। इन वाटर प्यूरिफिकेशन सिस्टम ने लगभग 10,000 निवासियों की जिंदगी को सकारात्मक रूप से प्रभावित किया है। एक्वागार्ड वाटर वेंडिंग मशीन को वाटर प्यूरिफिकेशन के विशेषज्ञों ने डिजाइन किया है और यह उन्नत तकनीक से सुसज्जित हैं जो पानी की हर बूंद को 9-चरणों में प्यूरिफिकेशन प्रक्रिया से उपचारित करती है। यूरेका फोब्र्स के जल वैज्ञानिक एवं फील्ड विशेषज्ञों ने प्लांट स्थापित करने से पहले शहर की जलीय परिस्थितियों का परीक्षण किया। पानी में मौजूद संदूषकों के स्तर के आधार पर, कंपनी ने इस टेक्नोलॉजी को विशिष्ट रूप से तैयार किया है। यह सुनिश्चित करती है कि पानी सिर्फ सूक्ष्मजैविक संदूषकों जैसे बैक्टीरिया, वायरस और सिस्ट से ही मुक्त नहीं है, बल्कि यह नाइट्रेट, फ्लोराइड, आर्सेनिक आदि जैसे जानलेवा प्रदूषकों को भी दूर करती है। साथ ही पानी में सभी प्राकृतिक आवश्यक खनिज भी बरकरार रहते हैं। इसके अतिरिक्त, यूरेका फोब्र्स की टीम ने इस प्लांट को चलाने के लिए स्थानीय एनजीओ को संपूर्ण प्रशिक्षण भी दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *