किशोर न्याय प्रणाली विषय पर आयोजित जिला स्तरीय कार्यशाला

जयपुर, 26 मई (का.सं.)। राजस्थान राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण, जयपुर के निर्देशानुसार किशोर न्याय समिति राजस्थान उच्च न्यायालय, जयपुर एवं जिला विधिक सेवा प्राधिकरण सवाई माधोपुर के तत्वाधान में किशोर न्याय प्रणाली विषय पर एक दिवसीय सेमीनार का आयोजन रविवार को रेजेन्टा वन्य महल रिसोर्ट स्थित सभागार कक्ष में किया गया।सेमीनार में राजस्थान राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के कार्यकारी अध्यक्ष एवं न्यायाधीश राजस्थान उच्च न्यायालय मोहम्मद रफीक, किशोर न्याय समिति राजस्थान उच्च न्यायालय के अध्यक्ष एवं माननीय न्यायाधिपति संदीप मेहता, न्यायाधीश, सवाई माधोपुर न्यायक्षेत्र के निरीक्षण न्यायाधीश एवं माननीय न्यायाधिपति इन्द्रजीत सिंह न्यायाधीश राजस्थान उच्च न्यायालय, राजस्थान राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण जयपुर के सदस्य सचिव अशोक कुमार जैन अतिथिंगण के रूप में उपस्थित थे। मुख्य अतिथिगण के रूप में उपस्थित माननीय न्यायाधिपति इन्द्रजीत सिंह, संदीप मेहता एवं मोहम्मद रफीक, न्यायाधीश, राजस्थान उच्च न्यायालय जयपुर द्वारा अपना उद्बोधन दिया गया। इस सैशन के अंत में नोडल ऑफिसर किशोर न्याय समिति एवं रजिस्ट्रार, राजस्थान उच्च न्यायालय ने धन्यवाद ज्ञापित किया। सेमीनार के प्रारम्भ में राजस्थान राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के सदस्य सचिव अशोक कुमार जैन द्वारा स्वागत भाषण एवं सेमीनार की विषयवस्तु के बारे में अवगत कराया गया। तत्पश्चात यूनिसेफ के प्रतिनिधि के रूप में उपस्थित सुशर्मिला राय द्वारा किशोर न्याय बोर्ड प्रणाली के संबंध में उद्बोधन दिया गया। तत्पश्चात जयपुर के बाल मनोचिकित्सक सुप्रदान्या देशपांडे ने बालकों की मनोवैज्ञानिक स्थिति एवं किशोरों की मनोवस्था के बारे में प्रस्तुति दी। यूनिसेफ के अन्य प्रतिनिधि जावेद एवं सदस्य सचिव अशोक कुमार जैन ने किशोर न्याय बोर्ड एवं बाल कल्याण समिति के सामान्य विधि प्रावधानों की जानकारी से उपस्थित प्रतियोगियों को अवगत कराया। यूनिसेफ के प्रतिनिधि आशुतोष ने पुलिस की किशोर न्याय अधिनियम की भागीदारी एवं अन्य नियमों के बारे में बताया। यूनिसेफ की प्रतिनिधि सुशर्मिला द्वारा सीसीआई की भूमिका एवं उसकी जिम्मेदारी के बारे में बताया गया। कार्यक्रम के अन्त में सदस्य सचिव अशोक कुमार जैन पीडित प्रतिकर स्कीम एवं किशोरों के साथ हो रहे अपराधों के संबंध में उन्हें त्वरित न्याय प्रदान किए जाने हेतु प्रेरित किया।अन्त में राष्ट्रीय गान के साथ सेमीनार के समापन की घोषणा की गई।सेमीनार में टोंक, दौसा एवं सवाई माधोपुर जिले के न्यायिक अधिकारीगण, जिला कलेक्टर सवाई माधोपुर डॉ. एस.पी. सिंह, जिला पुलिस अधीक्षक दौसा प्रहलाद सिंह, जिला पुलिस अधीक्षक सवाई माधोपुर समीर सिंह, एनजीओ के प्रतिनिधिगण, किशोर न्याय बोर्ड एवं बाल कल्याण समिति के अध्यक्ष एवं सदस्यगण, बाल संप्रेषण गृह के प्रतिनिधिगण उपस्थित रहे।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *