मां बनने का सपना पूरा करने में मदद करते हैं ये 8 सुपरफूड

हर लड़की की इच्छा होती है मां बनने की। मां बनना एक अलग ही सुखद एहसास कराता है। पर कुछ महिलाएं कुछ शारीरिक कमियों की वजह से मां नहीं बन पाती हैं, जिसकी वजह से वे भावनात्मक रूप से अपने अंदर काफी पीड़ा झेलती हैं। इन सबके बावजूद अगर आप अपने दैनिक खानपान में इन सुपर फूड्स का इस्तेमाल करें, तो आप अपने मां बनने की संभावना को काफी बढ़ा सकती हैं।
शकरकंदी : शकरकंद और रतालू, प्रजनन क्षमता बढ़ाने के लिए अद्भुत खाद्य पदार्थ हैं। इन्हें अवश्य अपने आहार में शामिल करें। ये विटामिन सी, बी और विटामिन बी6 से भरपूर स्वस्थ कार्बोहाइड्रेट्स के बेहतरीन स्रोत हैं। ये एंटीऑक्सिडेंट भी हैं, जो कोशिकाओं के क्षति होने से बचाते हैं। इसलिए ये आपके एग्स की सुरक्षा और उनके स्वास्थ्य में सुधार लाने के लिए बहुत अच्छे माने गए हैं।
फैटी फिश : साल्मन, सार्डिन, हेरिंग और अन्य प्रकार की फैटी फिश प्रजनन बढ़ाने वाली गुणवत्ताओं व लाभों से भरपूर हैं, क्योंकि इनमें उच्च स्तर का ओमेगा-3 फैटी एसिड होता है, जो प्रजनन अंगों तक रक्त प्रवाह को बढ़ाता है और प्रजनन हार्मोन को विनियमित करने में मदद कर सकता है। अपने आहार में इन्हें अवश्य शामिल करें।
अदरक : अदरक में रक्त परिसंचरण को बढ़ाने और पाचन तंत्र को दुरुस्त रखने जैसे कई अद्भुत गुण हैं। यह प्रजनन प्रणाली में किसी भी असुविधा को कम करता है। यह प्रजनन अंगों की सूजन को कम करता है और उन्हें स्वस्थ बनाए रखता है। अदरक को सब्जी, सलाद या चाय के रूप में अपने आहार में शामिल कर सकते हैं।
दालचीनी : यह अंडाशय के कार्य को बेहतर बनाने और इंसुलिन प्रतिरोध को उत्तेजित करके उचित अंडा उत्पादन को प्रोत्साहित करने के लिए जाना जाता है। पॉलीसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम से पीडि़त महिलाओं को दालचीनी को अपने आहार में शामिल करने की सलाह दी जाती है।
बीन्स और दाल : बीन्स और दालें आयरन व अन्य विटामिन तथा मिनरल्स का एक समृद्ध स्रोत हैं, जो प्रजनन क्षमता के लिए महत्वपूर्ण हैं। हर दिन अपने आहार में बीन्स और दालें शामिल करें।
टमाटर : टमाटर स्वस्थ पोषण और प्रजनन क्षमता को बढ़ाने वाला एक बेहतरीन फ्रूट है। यह विटामिन ए, सी, के, बी6, फोलेट और फाइबर का अच्छा स्रोत है, जो हार्मोन को संतुलित व ओव्यूलेशन में सुधार करने में मदद करते हैं। यह हार्ट व कोलेस्ट्रॉल के लिए काफी फायदेमंद है।
नट्स और ड्राई फ्रूट्स : ड्राई फ्रूट्स और नट्स, प्रोटीन, विटामिन, और मिनरल्स का एक बड़ा स्रोत हैं। ब्राजील नट्स, विशेष रूप से एक खनिज से समृद्ध होते हैं, जो महिलाओं में अंडा बनाने में मदद करते हैं और फ्री रेडिकल्स को दूर करते हैं। दूध के साथ या सलाद के ऊपर नट्स व ड्राई फ्रूट्स का सेवन जरूर करें। डॉ. रीता बक्शी, आईवीएफ स्पेशलिस्ट व स्त्री रोग विशेषज्ञ, इंटरनेशनल फर्टिलिटी सेंटर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *