डियोड्रेंट के बारे में ये बातें शायद ही जानते होंगे आप

डियोड्रेंट हर सुबह कई लोग यूज करते हैं। लोग फ्रेगनेंस और पर्सनल हाइजिन के लिए इसका इस्तेमाल करते हैं। लेकिन रोज लगाए जाने वाले ड्रियोड्रेंट के बारे में कुछ बातें आप शायद ही जानते हैं। ये डियोड्रेंट इन दो खास चीजों के अलावा बड़े काम के भी हो सकते हैं। इसे लेकर कुछ भ्रांतियां है। आइए जानते हैं डियोड्रेंट के बारे में आश्चर्यजनक बातें यहां जानिए…
यह पूरी तरह पसीना बंद नहीं करता है
ड्रियोड्रेंट पूरी तरह पसीना बंद नहीं करता है। जब आप ड्रियोड्रेंट का लेबल पढ़ेंगे तो उस पर ‘ऑल डे प्रोटेक्शन’ लिखा पाएंगे। लेकिन ये सिर्फ एफडीए की गाइड लाइन के लिए है वास्तव में ड्रियोड्रेंट पसीने को केवल बीस प्रतिशत तक ही कम करता है।
ड्रियोड्रेंट यूनिसेक्स होते हैं
क्या आप जानते हैं कि ड्रियोड्रेंट यूनिसेक्स होते हैं। महिला और पुरुषों के ड्रियोड्रेंट के बीच में यदि कोई अंतर होता है, तो वह है सुगंध और पैकेजिंग के तरीके का। इन दोनो में इस्तेमाल की जाने वाली सामग्री एक ही होती है।
पीले रंग के धब्बे एक रहस्य हैं
आप विश्वास करें या न करें, कोई नहीं जानता कि शर्ट पर अंडर आर्म पर वो पीले रंग के धब्बे कहां से आते हैं, यहां तक की ड्रियोड्रेंट बनाने वाली कंपनियों को भी इसका सही-सही कारण नहीं पता है। हालांकि कुछ लोग अल्युमीनियम बेस्ड ड्रियोड्रेंट को इसका कारण मानते हैं।
सोने से पहले लगाएं ड्रियोड्रेंट
रात दुर्गन्ध लागू करने के लिए सबसे अच्छा समय है, क्योंकि इस दौरान इसे पसीने से संपर्क में नहीं आना पड़ेगा और ड्रियोड्रेंट को बेहतर ढ़ंग से काम करने के लिए पर्याप्त समय भी मिल पाएगा।
हैंड सेनेटाइजर, ड्रियोड्रेंट के असर को दो गुना कर सकता है
यह सच है कि हैंड सेनेटाइजर, ड्रियोड्रेंट को दो गुना प्रभावी बना सकता है। हैंड सेनेटाइजर में पाया जाना वाला एल्कोहॉल दुर्गंध पैदा करने वाले अंडर आर्म बैक्टीरिया को मार देता है। हालांकि लगातार हैंड सेनेटाइजर को स्वेदरोधी के रूप में इस्तेमाल करने से य ह अंडर आर्म को ड्राई कर सकता है।
ड्रियोड्रेंट बैक्टीरिया को मारता है
पसीने में लगभग गंध ना के बराबर होती है। जो दुर्गंध शरीर से आती है, वह दरअसल बैक्टीरिया के कारण आती है और ड्रियोड्रेंट में गंध को रोकने के लिए जीवाणुरोधी सामग्री शामिल होती है।

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *