सभी कठिनाइयों के बावजूद, तुम्बाड के निर्माताओं ने असली तुम्बाड गाँव में दिया फि़ल्म की शूटिंग को अंजाम!

छह साल में बनी तुम्बाड को बनाने के लिए निर्माताओं को तुम्बाड गाँव में फि़ल्म की शूटिंग के लिए ख़ासा मशक्कत करनी पड़ी।फिल्म के निर्माताओं ने असली तुम्बाड गाँव में शूट करने का निर्णय लिया जो कि महाराष्ट्र के कोकण क्षेत्र में एक दूरस्थ गांव है। चूंकि फिल्म 30 और 40 के दशक में स्थापित है, इसलिए टीम को असली गांव में उस अवधि को फिर से रीक्रिएट करना पड़ा।इसके अतिरिक्त, उन्हें केवल मानसून में फि़ल्म की शूटिंग करनी थी क्योंकि स्क्रिप्ट के अनुसार बारिश में शूटिंग की आवश्यकता थी। फि़ल्म में बारिश का सार बनाये रखने के लिए पूरी टीम हमेशा बारिश के लिए स्टैंडबाय पर मौजूद रहती थी।दमदार टीजऱ के बाद, हाल ही में रिलीज हुए ट्रेलर ने पौराणिक कथा और भय के एक दिलचस्प मिश्रण के साथ दर्शकों के रोंगटे खड़े कर दिए थे।कल्पना, एक्शन, भय और डर की झलक के साथ आनंद एल राय की तुम्बाड एक रोमांचकारी रोलर कॉस्टर सवारी की तरह होगी। विसुअली अद्भुत फि़ल्म होने के कारण, तुम्बाड अपनी रिलीज से पहले ही प्रशंसा का पात्र बनी हुई है।सोहम शाह की यह बहू महत्वाकांक्षी परियोजना छह साल की रोलर कोस्टर सवारी की तरह रही है, जबकि आयनंद एल राय ने फिल्म को शैली-परिभाषित फिल्म के रूप में परिभाषित किया है। कलर येलो प्रोडक्शंस और लिटिल टाउन फिल्म्स प्रोडक्शन के सहयोग के साथ, तुम्बाड इरोज इंटरनेशनल और आनंद एल राय की प्रस्तुति है। फिल्म आई वेस्ट और फिल्मगेट फिल्म्स’ द्वारा सह-निर्मित तुम्बाड 12 अक्टूबर 2018 को रिलीज होने के लिए तैयार है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *