गूगल ने सुरक्षा के लिए जारी किए दो नए टूल्स

नई दिल्ली। इंटरनेट की दुनिया में डाटा चोरी के मामले आते रहते हैं। ऐसे में बचाव के लिए इंटरनेट सर्च इंजन गूगल दो नए टूल्स लेकर आया है। इनकी मदद से उपयोगकर्ता पता लगा सकते हैं कि उनके यूजर नेम या पासवर्ड के साथ कोई बदलाव तो नहीं किया गया है। गूगल के एक नए शोध में सामने आया चुका है कि ज्यादातर उपयोगकर्ता एक ही पासवर्ड को बार-बार इस्तेमाल करते हैं। पासवर्ड चेकअप एक क्रोम एक्सटेंशन है, जो बताता है कि किसी वेबसाइट पर दर्ज किए गए यूजरनेम या पासवर्ड के साथ छेड़छाड़ तो नहीं हुई है। अगर ऐसा होता है तो यह टूल उपयोगकर्ता को पासवर्ड बदलने की चेतावानी देता है। गूगल का कहना है कि इस प्रो-ऐक्टिव सेफ्टी टूल की मदद से हैकिंग का रिस्क 10 गुना तक कम हो जाता है। वहीं दूसरा टूल क्रॉस अकाउंट प्रोटेक्शन है। यह उन वेबसाइट और थर्ड एप से जुड़ी गड़बडिय़ों का पता लगाता है, जहां उपयोगकर्ता ने कभी गूगल अकाउंट की मदद से लॉग-इन किया हो। क्रोस अकाउंट प्रोटेक्शन को कंपनियों के साथ मिलकर तैयार किया गया है। स्टैंडर्ड्स कम्युनिटी इंटरनेट इंजीनियरिंग टास्क फोर्स (आइईटीएफ) और ओपन आईडी फाउंडेशन की मदद से इसे डेवेलपर की सहूलियत के लिए तैयार किया गया है।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *