ऊबर ने अपने ड्राईवर पार्टनर्स के लिए ऊबर बाजार पेश किया

जयपुर। दुनिया की सबसे बड़ी ऑन-डिमांड राईडशेयरिंग कंपनी, ऊबर ने दिल्ली-एनसीआर, मुंबई, बैंगलोर, अहमदाबाद, चेन्नई, गुवाहाटी, हैदराबाद, जयपुर, कोच्चि, कोलकाता और पुणे में अपने ड्राईवर पार्टनर्स के लिए वन-स्टॉप शॉप, ऊबरबाजार लॉन्च करके अपने ड्राईवर पार्टनर्स के प्रति अपनी प्रतिबद्धता प्रमाणित की है।ड्राईवर पार्टनरों की जरूरतों को पूरा करने के लिए इस समय ऊबरबाजार 11 शहरों में काम करना प्रारंभ कर चुका है। इस कार्यक्रम के तहत ड्राईवर पार्टनरों को कार मेंटेनेंस वर्कशॉप, फ्यूल कार्ड और टायर निर्माताओं की सुविधाओं का लाभ मिलेगा। शुरुआत में कंपनी ने निशुल्क स्वास्थ्य शिविर और नेत्र जांच शिविर आयोजित किए, जिनमें 11 शहरों से 10,000 से अधिक लोगों ने हिस्सा लिया।ऊबरबाजार के बारे में प्रदीप परमेश्वरन, हेड ऑफ सेंट्रल ऑपरेशंस, ऊबर इंडिया ने कहा, ”ड्राईवर पार्टनर ऊबर का अभिन्न अंग हैं और उन्होंने ऊबर के उद्देश्य, यानि स्मार्टर सिटीज़ के निर्माण में योगदान देने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। हम अपने ड्राईवर पार्टनरों का ख्याल रखते हैं और हमें अपनी इस जिम्मेदारी का एहसास है कि हमें अपने इन ड्राईवर पार्टनरों के लिए अपना पूरा प्रयास करना चाहिए, जो हमारे ऐप के माध्यम से अपनी आजीविका अर्जित करते हैं। हमने विभिन्न जरूरतों को पूरा करने के लिए वन-स्टॉप शॉप एक्सेस प्वाईंट- ऊबरबाजार स्थापित किया है। हमें उम्मीद है कि यह कार्यक्रम ड्राईविंग का अनुभव बेहतर बनाने और हमारे ड्राईवर पार्टनरों की जिंदगी में सुधार लाने में महत्वपूर्ण भूमिका अदा करेगा।अगस्त, 2017 में ऊबर ने आईसीआईसीआई लोम्बार्ड जनरल इंश्योरेंस के साथ पार्टनरशिप में भारत का पहला राईडशेयरिंग इंश्योरेंस प्रोग्राम पेश किया। यह पॉलिसी ड्राईवर पार्टनरों को एक्सीडेंटल मृत्यु या विकलांगता, हॉस्पिटलाईज़ेशन और ऊबर ऐप पर ऑनलाईन रहते हुए वाहन चलाने पर दुर्घटना की स्थिति में आउटपेशेंट मेडिकल इलाज के लिए निशुल्क कवरेज प्रदान करती है तथा यह ट्रिप के निवेदन, मार्ग के दौरान या फिर ऊबर की पूरी ट्रिप के लिए उपलब्ध है।इसके अलावा कंपनी ने इन-ऐप उत्पादों, पार्टनरशिप्स और ऊबर के साथ ड्राईविंग के अनुभव को आसान, सुगम व सुरक्षित बनाने के लिए अनेकों अभियानों की घोषणा भी की है। हाल ही में ऊबर ने कंपनी के साथ सबसे लंबे समय से काम कर रहे ड्राईवर पार्टनरों के लिए ड्राईवर लॉयल्टी प्रोग्राम, ऊबर ए-वन की घोषणा भी की। यह प्रोग्राम पायलट के रूप में बैंगलुरु, मुंबई, दिल्ली, कोच्चि और चेन्नई में चलाया गया। इस अभियान का लक्ष्य ड्राईवर पार्टनरों द्वारा कंपनी को दिए समय और कार्य के लिए उन्हें सम्मानित करना था। इस प्रोग्राम के तहत ड्राईवर पार्टनरों को प्रायरिटी फोन सपोर्ट, मोनेटरी रिवार्ड, एक्सक्लुसिव ईवेंट एवं इन-कार और इन-ऐप रिकग्निशन दिया गया।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *