लचीलेपन और साहस की कहानी ‘लाडो – वीरपुर की मर्दानी

 

Laado - Veerpur Ki Mardaani

 

देश में देवी के रूप में पूजी जाने वाली, कमजोर सेक्स के नाते दमन की शिकार महिला को समाज में अपना सही मुकाम तलाशने के लिए संघर्ष करना चाहिए। स्त्री-पुरुष बराबरी ऐसा मसला है जिसका सामना महिलाओं को लंबे समय से करना पड़ रहा है। लचीली और साहसी महिला की कहानी को साकार करते हुए कलर्स अपने मशहूर और प्रेरक धारावाहिक ना आना इस देस लाडो के दूसरे अवतार के लिए तैयार है जिसका नाम है लाडो-वीरपुर की मर्दानी। इसका प्रीमियर 6 नवंबर को होगा और धारावाहिक का प्रसारण प्रत्येक सोमवार से शुक्रवार रात 9:30 बजे कलर्स पर होगा। धवल गदा प्रोडक्शन की पेशकश लाडो – वीरपुर की मर्दानी पहले सीजन के समापन के बाद के वर्षों में अम्मा जी के जीवन की कहानी है जो ऐसी जमीन से दूर अपनी पोतियों का पालन-पोषण कर रही है जिसकी मालिक वह स्वयं है। इस आकर्षित कहानी में वापसी करते हुए मेघना मलिक उसी साहसिक और तीव्रता के अंदाज के साथ जोशीली अम्माजी के रूप में अपनी भूमिका निभाएगी जैसा कि पहले सीजन में की थी। इस धारावाहिक में बहुमुखी प्रतिभा की धनी अविका गौर मुख्य पात्र – अनुष्का के रूप में नजर आएंगी जिसका कानून में पक्का विश्वास अपनी बहन जाह्नवी के रूप में पलक जैन के साथ इस कहानी मेें कंधे से कंधा मिलाकर काम करती दिखेंगी। धारावाहिक के शुभारंभ के बारे में, कलर्स की कंटेंट हेड मनीषा शर्मा ने कहा, ना आना इस देस लाडो, उस समय बेहद मजबूत किरदार आधारित कहानी थी जो कलर्स के लिए बहुत अच्छी साबित हुई थी। हमारे नेटवर्क पर सामाजिक रूप से प्रासंगिक धारावाहिकों को देखते हुए और शक्ति एक अहसास की एवं उडान जैसे मजबूत किरदार आधारित धारावाहिकों की सफलता के साथ बेहद रोमांचक मोड के साथ हमने लाडो को वापस लाने का फैसला किया। उम्मीद है कि दर्शक दो बेहद प्रभावशाली चेहरों – अविका गौर और अम्मा जी (मेघना मलिक) को देखकर आनंद लेंगे जो साथ मिलकर छोटे पर्दे पर धमाल मचाएंगी।इस बारे में प्रोड्यूसर जयंतीलाल गदा ने कहा, लाडो के इस एडिशन के कनसेप्ट को विकसित करने के लिए हम काफी समय से काम कर रहे हैं। अविका के साथ दुर्जेय अम्मा जी के रूप में मेघना की वापसी हो रही है जो इस धारावाहिक के लिए हमारे विजन को साकार करने के लिए भारतीय टेलीविजन के सर्वाधिक चहेते चेहरों में से एक रही है। प्रतिभावान किरदारों और बेहद प्रभावशाली प्रदर्शन के साथ लाडो: वीरपुर की मर्दानी यकीनन पूरे भारत के दर्शकों को पसंद आएगी।अम्मा जी के जटिल किरदार के बारे में मेघना मलिक ने कहा, “लाडो के इस सीजन में अम्माजी दिमाग, शरीर और अपने लुक के तौर पर पहले से अलग है। इससे पहले कुछ लोगों की शिकार होने के कारण वह लड़कियों के पक्ष में नहीं थी। लेकिन इस बार – वह महिलाओं की चौंपियन के रूप में तथा महिलाओं की प्रतिष्ठा, सुरक्षा और अधिकारों के संवेदनशील मसलों के लिए खड़ी नजर आएगी।
अनुष्का की भूमिका निभाने के बारे में अविका गौर ने कहा, इस धारावाहिक से इसकी विरासत जुड़ी है और इसका दूसरा चैप्टर महिला अधिकारों के मुद्दे पर आधारित ताजगीभरा होगा। मैं खुद को भाग्यवान समझती हूं कि ऐसे धारावाहिक के लिए मुझे चुना गया जिसका आज के दौर में बेहद महत्व है। कलर्स मेरे लिए घर जैसा ही है और साथ मिलकर हमने दर्शकों को बालिका वधू और ससुराल सिमर का जैसे आइकनिक शो दिए हैं। अनुष्का के रूप में मेरा किरदार बहादुरी का प्रतिरूप है और आज की बाजाद युवती का प्रतिनिधित्व करता है जो सही के लिए लड़ती है, और यह कुछ ऐसा है जो मेरे विचार में दर्शकों को गहराई तक स्पर्श करेगा।आधुनिक दिनों की पृष्ठभूमि में फिल्माई गई कहानी दिल्ली में शुरू होती है जहां अम्माजी अपने हलचल भरे अतीत को पीछे छोड़कर दिल्ली में सेवानिवृत्ति के बाद का जीवन जी रही है और अपनी दो पोतियों के साथ रह रही है। हालांकि किस्मत उन्हें वीरपुर (हरियाणा) ले जाती है जो अब बदनामी, खून और हिंसा से भरी जगह है।

 

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *