महिला सशक्तिकरण व बेटियां बचाने का दिया सन्देश

 

अभियान पर निकले दल का जगह-जगह स्वागत
श्रीगंगानगर, 12 सितम्बर (नि.स.)। देश की सीमा की रक्षा का जिम्मा संभाल रही बॉर्डर सिक्योरिटी फोर्स (बीएसएफ) की जांबाज महिला जवानों तथा भारतीय वायुसेना के लड़ाकू विमानों व हेलीकॉप्टर की उड़ान व मेंटीनेंस में अपनी अहम भूमिका निभाने वाली जांबाज महिलाओं के संयुक्त दल का आज बीकानेर मेें विभिन्न स्थानों पर जोशिला स्वागत हुआ। स्वागत करने वालों ने इन महिलाओं के जज्बे को सलाम करते हुए उनके अभियान की तारीफ की और उनका हौंसला बढ़ाया। राजस्थान के पिछड़े व दूरस्थ सीमावर्ती इलाकों में महिलाओं के साथ होने वाले भेदभाव को समाप्त करने व बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान की अलख जगाने के लिए बाड़मेर से बाघा बॉर्डर (पंंजाब) तक की 1400 किलोमीटर लम्बी यात्रा पर है यह संयुक्त दल। मंगलवार को बीकानेर प्रवास के दौरान निकाली गयी रैली में जगह-जगह इन महिला अफसरों का स्वागत किया गया। इससे पहले सुबह बॉर्डर सिक्योरिटी फोर्स के बीकानेर सैक्टर मुख्यालय से यह दस्ता बीकानेर शहर में महिला सशक्तिकरण का बढ़ावा देने और जागरुकता पैदा करने हेतू शहर के विभिन्न स्थानों पर प्रात: साढ़े आठ बजे रवाना हुआ। जगह-जगह ऊंटों पर महिला जांबाजों का काफिला बीकानेर के राजकीय डूंगर कॉलेज, पंचशती सर्किल, मिलन ट्रेवल्स सर्किल, तुलसी सर्किल, अम्बेडकर सर्किल, व्यापार उद्योग मण्डल, सार्दूल सिंह सर्किल, कलैक्ट्रेट, जूनागढ़ किला रोड़, सार्दूल क्लब होते हुए राजकीय डा. करणी सिंह स्टेडियम पहुंचा। एयरफोर्स की ओर से स्क्वाड्रन लीडर अनुष्का लोमस जिम्मा संभाल रही है, वहीं बीएसएफ की ओर से तनुश्री पारीक ने इस अभियान की कमान सम्भाली है। इससे पहले सोमवार रात्रि बीकानेर पहुंचने पर पर्वतारोही डा. सुषमा बिस्सा, मगन बिस्सा के निवास पर स्वागत किया गया। स्वागत करने वालों में डा .सुधा आचार्य बीजेपी नेता, डॉ. सत्यप्रकाश आचार्य भी शामिल थे। इस दल में भारतीय वायुसेना की स्क्वाड्रन लीडर अनुष्का लोमस एवं तनुश्री पारीक, सहायक समादेष्टा, सीमा सुरक्षा बल ने बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ पर विचार व्यक्त किये। उन्होंने कहा कि सीमा क्षेत्र में अधिक से अधिक शिक्षा व जागरुकता की आवश्यकता है एवम अभिभावकों से अनुरोध किया कि वे अपनी लडकियों को अधिक से अधिक पढायें लिखायें जिससे कि भविष्य में वे अपने पैरों पर खडी हो सकें। उगेखनीय है कि यह दल इस सप्ताह के अंत तक श्रीगंगानगर जिले में पहुंच जायेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *