दुनिया की पहली इको फ्रेंडली अन्तर्राष्ट्रीय मैराथन में उमडा सैलाब, 1 घंटा 19 मिनट में नापी 21 किमी की दूरी

आबू रोड। प्रदेश के दूसरी अन्तर्राष्ट्रीय मैराथन का दर्जा प्राप्त दादी प्रकाशमणि अन्तर्राष्ट्रीय मैराथन में धावकों का सैलाब उमड़ पड़ा। प्रात: काल से सही धावकों का जमावड़ा लग गया। मौसम का मिजाज भी अंतराष्ट्रीय मैराथन की अनुकूल था। इस अन्तर्राष्ट्रीय मैराथन का उदघाटन करने पहुंची जिला प्रमुख पायल परसराम पुरिया ने कहा कि यहॉं की मैराथन पूरे विश्व में एक इतिहास बनायेगी क्योंकि यह पहली अन्तर्राष्ट्रीय मैराथन है जिसमें प्लास्टिक का बिल्कुल उपयोग नहीं किया गया है। इससे आने वाले पर्यटकों के लिए एक अच्छा संदेश जायेगा।
उन्होंने कहा कि ब्रह्माकुमारीज संस्थान पिछले पांच वर्षो से यह आयोजन कर रहा है। इसमें हजारों लोग प्रतिवर्ष शामिल होते हैं। संस्थान का यह प्रयास निश्चित तौर पर सदभावना और विश्व बन्धुत्व का संचार होगा।
राजस्थान के पूर्व मुख्य उप सचेतक तथा कांग्रेस नेता रतन देवासी ने कहा कि दादी प्रकाशमणि अन्तर्राष्ट्रीय मैराथन का दर्जा प्राप्त हुुआ है। यह माउण्ट आबू तथा प्रदेश के लोगों के लिए गौरव की बात है। सुप्रसिद्ध गुजराती फिल्म अभिनेत्री पल्लवी पाटिल ने कहा कि हम तो सामान्यतौर पर फिल्मों की दुनिया में रहती हूॅं। लेकिन आज इस आयोजन में शामिल होकर एक नयी उर्जा मिली है। इससे ही समाज के युवाओं में एक जोश आयेगा। इस दौरान ब्रह्माकुमारीज संस्था के कार्यकारी सचिव बीके मृत्युंजय ने भी अपनी शुभकामनाएं देते हुए मेराथन में सफलता के लिए शुभकामनाएं दी। कार्यक्रम में आये नगरपालिका माउण्ट आबू के चेयरमैन सुरेश थिंगर तथा आबू रोड पालिका के चेयरमैन सुरेश सिंदल ने कहा कि यह ऐतिहासिक दिन है। जब यह मैराथन अब अन्तर्राष्ट्रीय मैराथन के नाम से जानी जायेगी और दुनिया भर के धावक भाग लेगे। पूर्व चैम्पियन धावक सुनिता गोदारा, समेत कई लोगों ने अपने अपने विचार व्यक्त किये।
ये रहे मौजूद
इस अवसर पर सोशल एक्टिविटी ग्रुप के अध्यक्ष बीके भरत, साइंटिस्ट एवं इंजिनियर प्रभाग के राष्ट्रीय कोआर्डिनेटर मोहन सिंघल, महिला प्रभाग की मुख्यालय संयोजिका बीके डॉ सविता, मुकेश मिश्रा, बीके मोहन, बीके भानू, बीके सचिन, बीके चन्दा, बीके कृष्णा, बीके रामसुख मिश्रा, बीके कोमल समेत कई लोग उपस्थित थे।
ये रहे विजेता
21.01 किलोमीटर की हॉफ मैराथन के पुरुष वर्ग में केन्या के ऐरेडा बेराहू ने एक घंटा 19 मिनट 48 सेकेण्ड, अबदारहमान असरार ने एक घंटा 19 मिनट 49 सेकेण्ड, मोहम्मद सादिक हिसगागू ने एक घंटा 22 मिनट 22 सेकेण्ड में व महिला वर्ग में उत्तर प्रदेश की अर्पिता सैनी ने एक घंटा 35 मिनट 56 सेकेण्ड, केन्या की अलेमू आदिसालेम ने 1 घंटा 36 मिनट 22 सेकेण्ड, अगाहु जिनेट अडेके ने एक घंटा 37 मिनट 8 सेकेण्ड का समय लगाकर क्रमश पहला, दूसरा व तीसरा स्थान प्राप्त किया। हाफ मैराथन दौड़ तलहटी मनमोहिनीवन से आरंभ होकर, बाघनाला, छीपाबेरी, सातघूम, आरणा, माउंट आबू प्रवेश द्वार से गौमुख चौक, बस स्टेंड, रोटरी सर्कल, चाचा म्युजियम चौक, अंबेडकर चौंक, नक्की मार्केट, भारत माता नमनस्थल, दादी प्रकाशमणि मार्ग होते हुए ओम शान्ति भवन में संपन्न हुई। सवेरे छह बजे संगठन के तलहटी स्थित मनमोहिनीवन से अतिथियों की ओर से हरी झंडी दिखाकर रवाना की गई मैराथन दौड़ में कनाडा, इथोपिया, केन्या, नेपाल समेत देश के विभिन्न राज्यों से आए करीब 2500 सहभागियों ने हिस्सा लिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *