डब्ल्यूयूडी ने छह अंतरराष्ट्रीय विश्वविद्यालयों के साथ की साझीदारी

नई दिल्ली, 15 मई(एजेन्सी)। यूजीसी से मान्यता प्राप्त युनिवर्सिटी और रचनात्मक क्षेत्र में शिक्षा के लिए समर्पित भारत की पहली और एकमात्र यूनिवर्सिटी- वल्र्ड यूनिवर्सिटी ऑफ डिज़ाइन (डब्ल्यूयूडी) ने ब्रिटेन, कनाडा और फ्रांस के छह अंतरराष्ट्रीय विश्वविद्यालयों के साथ अकादमिक गठबंधन की घोषणा की है। इन सहमति ज्ञापनों से डब्ल्यूयूडी में शिक्षा के एक सर्वोत्कृष्ट हिस्से के तौर पर सभी विद्यार्थियों को अंतरराष्ट्रीय दिशा और पर्याप्त अवसर मिलेगा। इन छह अंतरराष्ट्रीय विश्वविद्यालयों में लंदन की यूनिवर्सिटी ऑफ हडर्सफील्ड, ऑक्सफोर्ड बु्रक्स यूनिवर्सिटी और यूनिवर्सिटी ऑफ वेस्ट स्कॉटलैंड, कनाडा की एमिली कैर यूनिवर्सिटी ऑफ आर्ट एंड डिज़ाइन और वैनकुअर फिल्म स्कूल एवं फ्रांस की इकोल नेशनल सुपीरियर देस आर्ट एंड इंडस्ट्रीज टेक्सटाइल्स (एनसैट) शामिल हैं। इन सहमति ज्ञापनों के दायरे में फैशन डिज़ाइन, इंडस्ट्रीयल डिज़ाइन, प्रोडक्ट डिज़ाइन, इंटीरियर डिज़ाइन, कम्युनिकेशन डिज़ाइन, विजुअल आट्र्स एवं आर्किटेक्चर और डिज़ाइन मैनेजमेंट आते हैं। इन गठबंधनों की घोषणा करते हुए वल्र्ड यूनिवर्सिटी ऑफ डिज़ाइन के कुलपति डॉ संजय गुप्ता ने कहा कि डब्ल्यूयूडी अंतरराष्ट्रीय दिशा को डिज़ाइन की शिक्षा का एक सर्वोत्कृष्ट हिस्सा मानती है और इसका इरादा विभिन्न क्षेत्रों में अपने सभी विद्यार्थियों को ढेरों अवसर उपलब्ध कराने का है जिससे वे शिक्षा के इस पहलू की विभिन्न बारीकियों को समझकर उसका अनुभव ले सकें।
ऐसी ढेरों चीज़ें हैं जिनकी पेशकश डब्ल्यूयूडी और इसके साझीदार विश्वविद्यालय एक दूसरे को कर सकते हैं। डब्ल्यूयूडी एक्सचेंज प्रोग्राम की खास बात यह है कि इन पर ऐसे संस्थानों के साथ हस्ताक्षर किए गए हैं जो डिज़ाइन, कला और वास्तुशिल्प के क्षेत्र में जबरदस्त प्रख्यात हैं। इसके अलावा, ये ऐसे देशों में स्थित हैं जिन्हें अपनी विरासत और रचनात्मकता को आत्मसात करने वाली संस्कृति के लिए जाना जाता है। विदेश में पढ़ाई कर कौशल हासिल करने, नया दृष्टिकोण अपनाने और आराम के क्षेत्र से बाहर आने की इच्छा से न केवल संभावित नियोक्ता आकर्षित होंगे, बल्कि इससे विद्यार्थी जीवन के सभी क्षेत्रों में बेहतर कर सकेंगे।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *