57 फीसदी कंप्यूटर गेमर्स ने स्लो स्टोरेज को सबसे बड़ी दिक्कत बताया-अध्ययन

नई दिल्ली, 8 दिसम्बर (एजेन्सी)। दुनिया की सबसे युवा जनसंख्या के साथ भारत दुनिया में सर्वोच्च गेमिंग बाजारों में से एक बन रहा है। दिलचस्प गेमिंग के लिए गेमर्स तेजी से कंप्यूटर आधारित गेमिंग की ओर रुख कर रहे हैं। यह बात वेस्टर्न डिजिटल द्वारा की गई ‘नैक्स्ट-जन गेमर्स शोध1 में सामने आई। उत्साह, मनोरंजन व चुनौती कंप्यूटर गेमिंग की दिलचस्पी बढ़ाने के मुख्य तत्व हैं, लेकिन आधे से ज्यादा लोगों (57 फीसदी) ने बताया कि गेम के खराब अनुभव के लिए मुख्य रूप से स्लो स्टोरेज जिम्मेदार है। गेमर्स को गेमप्ले का अनुभव सुधारने तथा गेम्स की अगली पीढ़ी द्वारा विकसित होते गेमिंग के परिदृश्य में ढलने में मदद करने के लिए वेस्टर्न डिजिटल ने अपने स्टोरेज समाधानों के पोर्टफोलियो के तहत नए उत्पादों की श्रृंखला प्रस्तुत की। लिमिटेड एडिशन कॉल ऑफ ड्यूटी (सीओडी) फैंस के लिए डिज़ाईन किए गए हैं, और, अतिरिक्त बोनस के रूप में, ये सीओडी प्वाईंड रिडीम करने के लिए मुफ्त वाउचर के साथ आएंगे।सर्वे में शामिल ज्यादातर लोगों ने स्लो गेम लोडिंग (51 प्रतिशत) एवं बैंडविड्थ (51 प्रतिशत) को मुख्य दिक्कतें बताया। जहां फास्ट गेम लोडिंग के लिए सबसे बड़ी समस्या स्लो स्टोरेज है, वहीं गेमर्स का मानना है कि गेमिंग के संपूर्ण अनुभव में रैम (52 प्रतिशत), ग्राफिक्स कार्ड (43 प्रतिशत) और प्रोसेसर (41 प्रतिशत) की भी भूमिका है। ‘नैक्स्ट जन इंडियन गेमर सर्वे में खुलासा हुआ कि 59 प्रतिशत गेमर्स के लिए स्लो लोडिंग टाईम के चलते उनका गेम प्ले प्रभावित हुआ। हर पाँच गेमर्स में से दो को स्टोरेज की कमी के चलते अपने पुराने टाईटल डिलीट करने पड़े।खालिद वानी, डायरेक्टर – सेल्स, इंडिया, वेस्टर्न डिजिटल ने कहा, ”गेमिंग के परिदृश्य के विकास एवं गेमिंग के ज्यादा दिलचस्प टाईटल आ जाने के बाद गेमर्स को स्पीड बनाए रखने के लिए ज्यादा बेहतर परफॉर्मेंस की जरूरत है। हमारा लेटेस्ट ॅक्ऋठस्।ब्ज्ञ ैैक् पोर्टफोलियो अभिनव है और हाई परफॉर्मेंस स्टोरेज समाधान प्रदान करता है, जो खासकर गेमर्स के लिए डिज़ाईन किए गए हैं और उन्हें गेम में सबसे आगे रखते हैं। हमने इंटरनल और पोर्टेबल एसएसडी को ऑप्टिमाईज़ किया है और ये उत्पाद न केवल गेमर्स को ज्यादा स्टोरेज प्रदान करते हैं, अपितु गेमिंग के संपूर्ण अनुभव में भी सुधार करते हैं।जगन्नाथ चेलिया, डायरेक्टर – मार्केटिंग, इंडिया, वेस्टर्न डिजिटल ने कहा, ”गेमर्स के बीच उपलब्धि की शक्तिशाली भावना होती है क्योंकि कंप्यूटर गेमिंग द्वारा वो रचनात्मकता की अभिव्यक्ति कर सकते हैं और उन्हें सीखने का अवसर मिलता है। कंप्यूटर गेमर्स कैज़्युअल गेमिंग से सीरियस गेमिंग की ओर बढ़ रहे हैं, ऐसे में स्लो स्टोरेज परफॉर्मेंस उनके लिए मुख्य दिक्कत बन गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *