अडाणी ग्रीन एनर्जी ने 12 बैंकों से जुटाए 97.99 अरब रुपये के कर्ज

नई दिल्ली। अडाणी ग्रीन एनर्जी लिमिटेड (एजीईएल) ने 12 अंतरराष्ट्रीय बैंकों से 1.35 अरब डॉलर ( करीब 97 अरब 99 करोड़ रुपये) के कर्ज जुटाये हैं। कंपनी ने कहा कि ये कर्ज 12 अंतरराष्ट्रीय बैंकों के समूह के साथ किए एक बाध्यकारी समझौते के तहत निर्माणाधीन अक्षय ऊर्जा परियोजनाओं के लिये जुटाये गये हैं। कंपनी ने एक बयान में कहा कि इससे सबसे पहले राजस्थान के चार एसपीवी में 1.69 गीगावाट क्षमता की सौर व पवन ऊर्जा परियोजनाओं को वित्तपोषित किया जायेगा। कंपनी ने कहा कि यह भारत में पहला प्रमाणित हरित हाइब्रिड परियोजना ऋण होगा।
इन बैंकों ने दिया कर्ज- ऋणप्रदाता समूह में शामिल 12 अंतरराष्ट्रीय बैंक स्टैंडर्ड चार्टर्ड बैंक, इंटेसा सैनपॉलो एसपीए, एमयूएफजी बैंक, सुमितोमो मित्सुई बैंकिंग कॉर्पोरेशन, कोऑपरेटिव राबोबैंक यूए, डीबीएस बैंक, मिजूहो बैंक, बीएनबी परिबा, बार्कलेज बैंक पीएलसी, ड्यूश बैंक एजी, सीमेंस बैंक जीएमबीएच और आईएनजी बैंक एनवी हैं। बयान में कहा गया है, एजीईएल ने प्रमुख अंतरराष्ट्रीय ऋणदाताओं के एक समूह के साथ हस्ताक्षरित बाध्यकारी समझौतों के माध्यम से अपने निर्माणाधीन अक्षय ऊर्जा पोर्टफोलियो के लिये 1.35 अरब डॉलर का ऋण जुटाया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *