सूरतगढ़ एयर बेस स्टेशन पर वायु सैनिक की संदिग्ध अवस्था में गोली लगने से मौत

 

श्रीगंगानगर, 27 जून (का.सं.)। सूरतगढ़ में अवस्थित वायु सेना के एयर बेस स्टेशन पर एक युवा सैनिक की संदिग्ध परिस्थितियों में गोली लगने से मौत हो गई। सूरतगढ़ शहर पुलिस के अनुसार लीडिंग एयरक्राफ्टमैन( एलएसी) के पद पर तैनात पीनीती लावण्य प्रकाश(22) एयरबेस स्टेशन में टावर नंबर 8 के कैबिन में मृत अवस्था में पाया गया। उसकी गर्दन व ढोड़ी के बीच में गोली लगी हुई थी। पुलिस के अनुसार एयरबेस स्टेशन के फ्लाइट लेफ्टिनेंट (दंडपाल) राहुलरंजन ने कल दोपहर सूचना दी कि टावर नंबर 8 में एक वायु सैनिक की गोली लगने से मौत हो गई है। पुलिस ने तत्काल घटनास्थल का निरीक्षण किया। तत्पश्चात लाश को सूरतगढ़ के सरकारी अस्पताल में सुरक्षित रखवा दिया। पुलिस के अनुसार राहुल रंजन ने कल देर रात दर्ज करवाई गई रिपोर्ट में बताया है कि वायसेना परिसर की सुरक्षा के लिए टावरों पर दो दो घंटे के लिए गार्ड्स की ड्यूटी लगाई जाती है। पीनीती लावण्य प्रकाश की ड्यूटी कल बुधवार सुबह 9 से 11 टावर नंबर 8 पर थी। इसके बाद 11 बजे से ड्यूटी पर प्रीतमसिंह मेहरा वायु सैनिक ने आना था। प्रीतमसिंह टावर पर पहुंचा तो उसका केबिन अंदर से बंद था।उसने बार-बार केबिन का दरवाजा खटखटाया लेकिन जवाब नहीं मिला। प्रीतमसिंह ने पीनीती लावण्या प्रकाश के मोबाइल पर फोन किया।मोबाइल फोन भी नो- रीप्लाई रहा। प्रीतमसिंह मेहरा ने ड्यूटी ऑफिसर अरुण यादव को इसकी सूचना दी। वायुसेना के अधिकारी व जवान टावर नंबर 8 पर आ गए। उन्होंने सीढी लगाकर केबिन के ऊपर वाले हिस्से में लगे कांच को तोड़ दिया। अंदर झांक कर देखा तो पीनीती लावण्य प्रकाश अपनी इंसास राइफल के पास मृत पड़ा था।वह खून से लथपथ था। पता चलने पर एयरबेस स्टेशन के वरिष्ठ अधिकारी तत्काल घटनास्थल पर आ गए। उनके द्वारा दोपहर बाद इसकी सूचना सूरतगढ़ सिटी थाना में दी गई। इस मामले की जांच कर रहे एएसआई धर्मेंद्रसिंह ने बताया कि लावण्य प्रकाश की इंसास राइफल की मैगजीन बाहर निकली हुई थी। प्रथम दृष्टया लग रहा है कि लावण्य प्रकाश संभवत: राइफल को साफ कर रहा था। इस दौरान गोली चल गई जो उसकी ढोड़ी व गर्दन के बीच लगी। गोली लगने से लावण्य प्रकाश के सिर का एक हिस्सा उड़ गया। मौके की कार्रवाई के बाद लाश को हॉस्पिटल में लाया गया। उन्होंने बताया कि लगभग 2 वर्ष पहले वायु सेना में भर्ती हुए हुआ जवान लावण्य प्रकाश आंध्रप्रदेश में मछलीपट्टनम का निवासी है। उसने परसों ही अपने पिता को फोन कर बताया था कि अगले महीने 3 सप्ताह के लिए उसकी छुट्टी मंजूर हो गई है। वह छुट्टी पर जाने की तैयारी कर रहा था कि इसी बीच यह हादसा हो गया। परिवार वालों को सूचना दिए जाने पर उसका पिता अन्य परिजन आज सुबह सूरतगढ़ पहुंचे। पोस्टमार्टम करवाने के बाद लावण्य प्रकाश का शव उनके सुपुर्द कर दिया गया। एसआई ने कहा कि इस पूरे घटनाक्रम की जांच की जा रही है। मृतक जवान अविवाहित था।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *