भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया ने की पीएम मोदी से भेंट, उजागर की गहलोत सरकार की खामियां

जयपुर, 22 नबंवर (एजेंसी)। भाजपा प्रदेशाध्यक्ष डॉ सतीश पूनिया ने आज शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से दिल्ली में मुलाकात की, मुलाकात के दौरान उन्होंने प्रदेश के जनकल्याण सहित विभिन्न मुद्दों, समस्याओं एवं समाधान, आदि विषयों पर चर्चा की और आर्थिक आधार पर आरक्षण दिये जाने के लिए राजस्थान की जनता की ओर से मोदी जी को साधुवाद दिया । इससे भी अवगत करवाया की श्वङ्खस् के प्रमाणपत्र बनाने में सरकार ढिलाई बरत रही है। इसे लेकर लोगों में आक्रोश है। प्रधानमंत्री मोदी जी से मुलाकात के बाद पूनियाँ ने पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री ने राजस्थान भाजपा की संगठनात्मक जानकारी ली और भाजपा राजस्थान के कार्यों की प्रशंसा की। सतीश पूनिया ने बताया कि राजस्थान से जुड़े विभिन्न मामलों में केन्द्र और राज्य सरकारों के बीच अनेक राजनीतिक मसले हैं जिनका राज्य सरकार अक्सर केंद्र पर आरोप लगाती है, इसका ताजा उदाहरण सांभर में बड़ी संख्या में प्रवासी पक्षियों की मौत से जुड़ा मामला है। सांभर झील नमक उत्पादन के लिए प्रसिद्ध है। यहां पर लाखों की तादाद में प्रवासी पक्षी आते है, लकिन इस बार आकस्मिक यहां पर हजारों प्रवासी पक्षियों की मौत हो गई। मैंने स्वयं वहां का दौरा कर जानकारी प्राप्त की, जिसमें साफ यह नजर आया की राजस्थान सरकार उस मुद्दे पर बिल्कुल भी जागरुक व सचेत नहीं थी । 15 दिन तक पक्षियों की मौत का सिलसिला चलता रहा, जब हाईकोर्ट ने प्रसंज्ञान लिया, इसके अलावा मीडिया में खबरें आई, तब जाकर सरकार सचेत हुई। तब तक हजारों की तादाद में पक्षी काल कल्पित हो चुके थे। राजस्थान सरकार अपनी कमजोरी छिपाने के लिए विभिनन मुद्दों पर केंद्र सरकार पर आरोप लगाती रहती है। प्रदेशाध्यक्ष ने बताया कि केन्द्र सरकार द्वारा जनता की मजबूती के लिए चलाई जा रही कल्याणकारी योजनाओं का लाभ राजस्थान की कांग्रेस सरकार जनता तक ठीक प्रकार से नहीं पहुंचा रही जैसे आयुष्मान भारत योजना को इतना समय बीत जाने के बाद भी राज्य सरकार की जिद के कारण सही प्रकार से लागू नहीं किया गया। अभी भी प्रदेश के अनेक गरीब लोग इस योजना से वंचित है। प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना से भी राजस्थान के अनेक किसान अभी तक वंचित है, क्योंकि सरकार ने अनके किसानों के आधार कार्ड को एन.आई.सी. में लिंक नहीं किया। प्रधानमंत्री आवास योजना के लिए राज्य सरकार के मंत्री ने स्वयं यह स्वीकार किया है कि इस कार्य में हमारी गति धीमी है। यह सब कांग्रेस पंचायत चुनावों में लाभ लेने के लिए कर रही है। प्रदेशाध्यक्ष पुनिया ने ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को राजस्थान में किसानों और नौजवानों के बीच आने का आमंत्रण दिया और मन की बात को एक शो के माध्यम से आगे बढ़ाने का आग्रह किया ।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *