असम के तिवा स्वायत्तशासी परिषद के चुनावों में बीजेपी ने 33 सीटें जीतीं, कांग्रेस को मिली केवल एक सीट

दिसपुर (एजेंसी)। असम की सत्तारुढ़ भारतीय जनता पार्टी ने तिवा स्वायत्तशासी परिषद की 36 सीटों में से 33 सीटों पर जीत दर्ज की है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, 2 सीटों पर बीजेपी की सहयोगी असम गण परिषद ने जीत दर्ज की है जबकि मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस को सिर्फ एक सीट से संतोष करना पडा है। मतगणना को लेकर असम राज्य निर्वाचन आयोग की ओर से अद्यतन की गई जानकारी के मुताबिक, भारतीय जनता पार्टी ने जिन सीटों पर जीत दर्ज की है उनमें से अधिकतर सीटों पर उसने कांग्रेस को हराया है। एएसईसी ने कहा कि गोभा निर्वाचन क्षेत्र से बीजेपी के मनिराम पातर निर्विरोध जीत गए हैं। बता दें कि मतगणना की शुरुआत से ही भारतीय जनता पार्टी के तमाम उम्मीदवार आगे चल रहे थे, और यह तय हो गया था कि इन चुनावों में भगवा लहराने वाला है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, नौगांव, मोरीगांव, कामरूप और होजाई जिलों में फैली परिषद के किसी भी सीट पर कांग्रेस सही से लड़ाई में नजर ही नहीं आई। इन चुनावों के लिए 36 निर्वाचन क्षेत्रों के लिए कुल 124 उम्मीदवार मैदान में थे जिसके लिए मतदान 17 दिसंबर को हुआ था। कुल 3,08,409 मतदाताओं में से 71 प्रतिशत से अधिक मतदातओं ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया। हाल में सम्पन्न बोडोलैंड प्रांतीय परिषद के चुनाव में भी भाजपा ने अच्छा प्रदर्शन किया था। तिवा स्वायत्तशासी परिषद के चुनावों में मिली इस सफलता का फायदा भगवा दल अगले साल होने वाले विधानसभा चुनावों में भी उठाना चाहेगी। बता दें कि 2016 में हुए असम विधानसभा चुनावों में बीजेपी ने 126 में से 89 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारे थे और 60 सीटों पर जीत दर्ज की थी। वहीं, उसकी सहयोगी असम गण परिषद ने 14 सीटों पर जीत दर्ज की थी। उन चुनावों में कुल 86 सीटें जीतकर बीजेपी के नेतृत्व वाले एनडीए ने बड़े बहुमत के साथ सरकार बनाई थी। 2016 के चुनावों में कांग्रेस ने 122 सीटों पर उम्मीदवार उतारे थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *