बीएसडीयू ने की ईएआईई की प्रदर्शनी में भागीदारी

नई दिल्ली, 26 सितंबर (एजेन्सी)। देश के पहले विशुद्ध कौशल विश्वविद्यालय भारतीय स्किल डेवलपमेंट यूनिवर्सिटी (बीएसडीयू), जयपुर ने यूरोपियन एसोसिएशन फॉर इंटरनेशनल एजुकेशन (ईएआईई) की कॉन्फ्रेंस में भागीदारी की है और कॉन्फ्रेंस में अपनी स्टॉल भी लगाई है। इस कॉन्फ्रेंस में विभिन्न देशों के अनेक शैक्षिक संस्थान भागीदारी करते हैं और ट्रेनिंग और कॉन्फ्रेंस के माध्यम से विचार-विमर्श करते हैं। राजस्थान से बीएसडीयू एकमात्र ऐसा विश्वविद्यालय है, जिसने हेलसिंकी, फिनलैंड में आयोजित इस कॉन्फ्रेंस में भागीदारी की है। 95 देशों के लगभग 6,000 प्रतिनिधि इस कॉन्फ्रेंस में हिस्सा ले रहे हैं। इस कॉन्फ्रेंस में बीएसडीयू के प्रतिनिधिमंडल में वाइस चांसलर डॉ (ब्रि) सुरजीतसिंह पाब्ला, डायरेक्टर डॉ रविकुमार गोयल, डॉ सी के पाब्ला और डॉ अनुराग शामिल हैं, जो दूसरे अन्य विश्वविद्यालयों के प्रतिनिधियों से विचार-विमर्श करेंगे और बीएसडीयू की प्रमुख विशेषताओं के बारे में उन्हें जानकारी देंगे। वे बीएसडीयू द्वारा उपलब्ध कराए जा रहे पाठ्यक्रमों के बारे में भी दूसरे देशों के प्रतिनिधियों को जानकारी देंगे और उस अध्ययन सामग्री की जानकारी भी देंगे, जिसकी छात्रों को उद्योग में व्यावहारिक प्रशिक्षण प्राप्त करने के लिए प्रत्येक वैकल्पिक सेमेस्टर में आवश्यकता होती है। इसके अलावा, बीएसडीयू का प्रतिनिधिमंडल कुछ अंतरराष्ट्रीय विश्वविद्यालयों के साथ समझौता ज्ञापनों पर हस्ताक्षर करने के बारे में भी बातचीत करेगा। बीएसडीयू के वाइस चांसलर डॉ (ब्रि) सुरजीतसिंह पाब्ला ने कहा कि बीएसडीयू की तरफ अंतरराष्ट्रीय बिरादरी का ध्यान खींचने का यह एक शानदार अवसर है। भारत का पहला विशुद्ध कौशल विश्वविद्यालय होने के नाते, हमारे पास न केवल भारतीय छात्रों के लिए, बल्कि अन्य विश्वविद्यालयों के छात्रों के लिए भी बहुत सारे अवसर हैं। यह अवसर हमें अंतरराष्ट्रीय विश्वविद्यालयों और शैक्षणिक संस्थानों के साथ हाथ मिलाने का मौका दे सकता है, जो हमारे विश्वविद्यालय और हमारे छात्रों को और अधिक अवसर हासिल करने में मदद कर सकता है। फिनलैंड में भारतीय राजदूत वाणी राव ने भी स्टाल का दौरा किया और विश्वविद्यालय को भागीदारी का प्रमाण पत्र प्रदान किया।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *