बजट घोषणाओं की होगी नियमित समीक्षा मुख्यमंत्री ने दिए निर्देश

जयपुर, 4 अक्टूबर (का.सं.)।मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि जनता की आकांक्षाओं और अपेक्षाओं के अनुरूप बजट घोषणाओं की समय पर क्रियान्विति सुनिश्चित हो। अधिकारी पूरी गंभीरता के साथ बजट घोषणाओं को गति प्रदान करें। उन्होंने मुख्य सचिव को निर्देश दिए कि वे बजट घोषणाओं की प्रगति की अपने स्तर पर नियमित समीक्षा करें। गहलोत शुक्रवार को मुख्यमंत्री कार्यालय में परिवर्तित बजट 2019-20 की घोषणाओं की क्रियान्विति की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि परिवर्तित बजट के जुलाई माह के अंत में पारित होने के कारण घोषणाओं की क्रियान्विति के लिए समय कम बचा है। अगले बजट से पहले घोषणाओं को धरातल पर उतारें ताकि आमजन को उनका लाभ मिल सके। मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए कि निर्माण कार्यों से संबंधित ऐसी घोषणाएं जिन का काम लम्बे समय तक चलना है। उनकी स्वीकृतियां जल्द जारी की जाएं। बड़ी परियोजनाओं को चरणबद्ध रूप से लागू किया जाए। उन्होंने कहा कि घोषणाओं की क्रियान्विति की विभागीय स्तर पर भी प्रभावी मॉनिटरिंग सुनिश्चित की जाए। उन्होंने अतिरिक्त मुख्य सचिव वित्त को भी निर्देश दिए कि वित्त विभाग के स्तर पर भी घोषणाओं की प्रगति की नियमित समीक्षा की जाए। बैठक में मुख्य सचिव डीबी गुप्ता ने बताया कि बजट घोषणाओं के त्वरित क्रियान्वयन के लिए कुल 45 विभागों के 5 समूह बनाए गए हैं। साथ ही ऑनलाइन मॉनिटरिंग के लिए सीएमआईएस पोर्टल को और अधिक प्रभावी बनाया गया है। इसमें ऐसे फीचर्स जोड़े गए हैं जिनसे घोषणाओं की प्रगति की पूरी जानकारी प्राप्त हो सके और पोर्टल के माध्यम से ही अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिए जा सकें। बैठक में वित्त एवं आयोजना विभाग के अधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *