अनलॉक-5 के 30वें दिन देश में कोरोना के उपचाराधीन मरीजों की संख्या छह लाख से कम

Number of patients under Corona in the country less than six lakh
Number of patients under Corona in the country less than six lakh on the 30th day of Unlock-5
सरकार व आमजन के लिए राहत भरी खबर

नई दिल्ली (एजेंसी)। देश में करीब तीन माह बाद कोविड-19 के उपचाराधीन मरीजों की संख्या छह लाख के नीचे आई है और यह कुल मामलों का 7.35 प्रतिशत है। केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने शुक्रवार को यह जानकारी दी। साथ ही कहा कि भारत ने कोरोना वायरस संक्रमण के खिलाफ लड़ाई में एक अहम उपलब्धि हासिल की है। आज की तारीख में देश में कुल 5,94,386 मरीज उपचाराधीन हैं। वहीं, छह अगस्त को यह संख्या 5.95 लाख थी। मंत्रालय ने कहा, ”वर्तमान में उपचाराधीन मरीजों की संख्या संक्रमण के कुल मामलों का केवल 7.35 प्रतिशत है। यह संख्या 5,94,386 है। इस प्रकार से मामले लगातार घट रहे हैं।विभिन्न राज्यों और केन्द्र शासित क्षेत्रों में उपचाराधीन रोगियों की संख्या अलग-अलग है जो महामारी से लडऩे के उनके प्रयासों और इसमें मिल रही प्रगति की ओर इशारा करती हैं। मंत्रालय ने कहा, ”भारत अभी भी शीर्ष देश है, जहां संक्रमण से ठीक होने वाले लोगों की संख्या सर्वाधिक है। उपचाराधीन रोगियों की संख्या और ठीक हो चुके मरीजों के बीच का अंतर लगातार बढ़ रहा है और आज की तारीख में यह संख्या 6,778,989 है। मंत्रालय ने कहा कि संक्रमण मुक्त होने के नए मामलों में से 80 प्रतिशत10 राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेशों से हैं। केरल में एक दिन में ठीक होने वाले लोगों की संख्या 8,000 से अधिक रही, जबकि महाराष्ट्र और कर्नाटक में यह संख्या 7,000 से अधिक रही।
दिल्ली में पिछले दो दिनों से कोविड-19 के मामलों में रिकॉर्ड बढ़ोतरी के बीच स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने मास्क पहनने के महत्व पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि वायरस का टीका उपलब्ध होने तक लोगों को मास्क को ही ‘टीका समझना चाहिए। मंत्री ने कहा कि अगर हर कोई मास्क पहने तो कुछ हद तक वायरस के प्रसार को रोका जा सकता है। लॉकडाउन की तुलना में मास्क पहनने के ज्यादा फायदे हैं। दिल्ली में पिछले दो दिनों में संक्रमण के 5,000 से ज्यादा मामले आए हैं। बुधवार को संक्रमण के 5673 और बृहस्पतिवार को 5739 मामले आए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *