पिछड़े व्यक्ति के विकास से समाज व राष्ट्र का विकास संभव

 

जयपुर। बीकानेर में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150वीं जयंती का आगाज बुधवार को गांधी संदेश यात्रा के साथ हुआ। बीकानेर के रेलवे खेल मैदान में ऊर्जा मंत्री डॉ.बी. डी. कल्ला अल्प संख्यक मामलात मंत्री एवं बीकानेर जिले के प्रभारी सालेह मोहम्मद तथा उच्च शिक्षा राज्यमंत्री भंवर सिंह भाटी ने हजारों कीे संख्या में गांधी संदेश यात्रा में पहुंचे छात्र-छात्राओं को राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को अपना आदर्श मानते हुए भारत के संविधान को साक्षी रखते हुए उनके सिद्धान्तों के अनुसरण की शपथ दिलाने के बाद अतिथियों ने गांधी संदेश यात्रा को हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया। गांधी संदेश यात्रा में पहुंचे हजारों छात्र-छात्राएं महात्मा गांधी के संदेश लिखी तख्तियां लिए चल रहे थे। इस यात्रा में बहुत सुन्दर व आकर्षक झांकियां प्रदर्शित की गई। विभिन्न शिक्षण संस्थाओं के विद्यार्थियों ने बैनर व तख्तियों के माध्यम से महात्मा गांधी के जीवन दर्शन को प्रदर्शित किया। यह यात्रा रेलवे स्टेडियम,बोथरा कॉम्पलेक्स, प्रेमजी पोईन्ट, महात्मा गांधी मार्ग, रतनबिहारी पार्क,पब्लिक पार्क होते हुए गांधी पार्क पहुंची। संदेश यात्रा का एक छोर रेलवे खेल मैदान था,तो दूसरा छोर गांधी पार्क था। गर्मी और उमस भरा वातावरण होने के बावजूद बच्चों का यह कारवां महात्मा गांधी अमर रहे, के नारे लगाते हुए अनुशानात्मक ढंग से आगे बढ़ रहा था। महात्मा गांधी के प्रिय भजन की धुन बच्चों में ऊर्जा का संचार कर रही थी। इस दौरान तीनों ही मंत्री पूरे रास्ते बच्चों का उत्साहवद्र्धन करते हुए संदेश यात्रा के साथ चल रहे थे । गांधी संदेश यात्रा का नेतृत्व गांधी की वेशभूषा में सज्जित बच्चे कर रहे थे। ऊर्जा एवं अल्प संख्यक मामलात मंत्री तथा उच्च शिक्षा राज्यमंत्री ने गांधी की प्रतिमा पर पुष्पाजंलि अर्पित कर,उन्हें नमन किया। इस अवसर पर डॉ.कल्ला ने कहा कि महात्मा गांधी ने आज के ही दिन सत्याग्रह आन्दोलन की शुरूआत की थी। महात्मा गांधी की सोच ने पूरे विश्व को रंगभेद पर सोचने के लिये मजबूर कर दिया था, इसलिये महात्मा गांधी एक मजबूती का नाम है। उन्होंने कहा कि गांधी अतीत ही नही हमारा भविष्य भी है। उन्होंने कहा कि महात्मा गांधी ने सबसे पहले अंतिम पंक्ति में बैठे व्यक्ति के उत्थान को आगे ब?ाया। उन्होंने कहा था कि सबसे पिछडे व्यक्ति का विकास होने से ही समाज व राष्ट्र का विकास होगा। उन्होंने कहा कि बच्चों को महात्मा गांधी के जीवन दर्शन के बारे में बताया जाये कि किस प्रकार गांधीजी ने पूरे विश्व को अहिंसा का संदेश दिया। इस अवसर पर बीकानेर जिले के प्रभारी एवं अल्पसंख्यक मामलात मंत्री श्री सालेह मोहम्मद ने कहा कि महात्मा गांधी ने बिना हथियार के देश को आजादी दिलाई। सत्य एवं अहिंसा के पथ पर चलने का संदेश दिया। उन्होंने कौमी एकता का संदेश दिया। उन्होंने असहयोग आंदोलन की वजह से ब्रिटिश साम्राज्य को देश छो?ने के लिए मजबूर कर दिया था। उन्होंने कहा कि वर्तमान में गांधी के आदर्शों पर चलकर ही देश की एकता एवं अखण्डता कायम रखी जा सकती है।उच्च शिक्षा राज्यमंत्री श्री भंवर सिंह भाटी ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत द्वारा पूरे प्रदेश में महात्मा गांधी की 150 वीं जयन्ती वर्ष पर कार्यक्रम आयोजित कर,आज की पी को महात्मा गांधी के व्यक्तित्व एवं कृतित्व को जानने का अवसर दिया है। उन्होंने कहा कि प्रत्येक नागरिक को महात्मा गांधी के जीवन से प्ररेणा लेकर,दीन-दुखियों की सेवा करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि महात्मा गांधी का मानना था कि मानवता के सिद्धान्तों की पालना से देश में शान्ति एवं भाईचारा का माहौल बनेगा। उन्होंने स्त्री शिक्षा एवं बुनियादी शिक्षा के लिए कार्य करने पर जोर दिया था।इस अवसर पर महात्मा गांधी 150 वीं जयन्ती के प्रदेश संयोजक श्री मनीष शर्मा और जिला संयोजक श्री संजय आचार्य ने गांधी जयन्ती वर्ष के दौरान होने वाले कार्यक्रमों की जानकारी दी।इस अवसर पर सेवाश्रम के दिव्यांग बच्चों ने गांधी के प्रिय भजन वैष्णव जन तो तेने कहिए ,जे पी? पराई जाणे रेकी भावपूर्ण प्रस्तुति दी। सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग की ओर से स्काउट एवं गाइड कैडेट ने रघुपति राघव राजा राम के भजन सुनाए।इससे पहले अतिथियों ने गांधी पार्क में ही गांधी दर्शन के शिलालेख का शिलान्यास किया। इन शिलालेखों पर गांधी जी की जीवनी को दर्शाया जायेगा।इस अवसर पर स्थानीय जन प्रतिनिधी संबंधी अधिकारी मौजूद थे।

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *