बॉक्सर बनने के लिए पसीना बहा रहे फरहान अख्तर

 

एक्टर, डायरेक्टर, सिंगर और लेखक के रूप में पहचाने जाने वाले अभिनेता फरहान अख्तर बेहतरीन फिल्मों को चुनने के लिए जाने जाते हैं। और इसी चीज को बरकरार रखते हुए वह अपनी अगली फिल्म ‘तूफान में एक बॉक्सर की भूमिका निभाते नजर आएंगे। इसके लिए उन्होंने कड़ी मेहनत की है। फरहान, राकेश ओमप्रकाश मेहरा की इस फिल्म में एक मुक्केबाज की भूमिका में हैं, जिसकी तस्वीरें वह सोशल मीडिया पर साझा कर रहे हैं। इन तस्वीरों में साफ नजर आ रहा है कि वह अपने इस किरदार के प्रति कितने समर्पित हैं, जिसके लिए इतनी मेहनत कर रहे हैं। उन्होंने अपनी शारीरिक बनावट पर भी काफी परिश्रम किया है। उनका मानना है कि फिल्म की स्क्रिप्ट ही उन्हें एक अभिनेता के रूप में आगे बढ़ाने का काम करती है।वह कहते हैं, ‘इस स्तर पर प्रयास करना केवल तभी संभव है, जब कहानी आपको अपना सर्वश्रेष्ठ देने के लिए प्रेरित करे। हम बेहतर शारीरिक बनावट या कद-काठी दिखाने के लिए फिल्म नहीं बना रहे हैं, बल्कि हम दर्शकों को भावनात्मक रूप से इस किरदार की यात्रा के साथ जोडऩा चाहते हैं। इस अनुभव को विश्वसनीय बनाने के लिए हम सभी प्रकार के प्रयास कर रहे हैं। फरहान एक पेशेवर मुक्केबाज के रूप में खुद को निखारने के लिए काफी मेहनत कर रहे हैं। हालांकि उन्होंने ‘भाग मिल्खा भाग (2013) में भी स्पोट्र्सपर्सन तेज धावक मिल्खा सिंह की भूमिका निभाई थी। तो इस बार एक मुक्केबाज के किरदार को निभाने की उनकी तैयारियां कैसे अलग रहीं? वह कहते हैं, ‘रनिंग और बॉक्सिंग दो बेहद अलग तरह के अभ्यास हैं, जिनकी अपनी अलग-अलग चुनौतियां हैं।फरहान अख्तर अभी तक की अपनी फिल्मों में काफी अलग-अलग प्रकार के किरदार निभा चुके हैं। उनकी फिल्मों ‘रॉक ऑन (2008), ‘लक बाय चांस (2009), ‘जिंदगी ना मिलेगी दोबारा (2011), ‘दिल धड़कने दो (2015), ‘लखनऊ सेंट्रल (2017) और पिछले साल आई फिल्म ‘स्काई इज पिंक में उनके द्वारा निभाए गये किरदारों को देख सकते हैं। और अब दर्शक भी उनसे और बेहतर करने की उम्मीद लगाने लगे हैं। वह कहते हैं, ‘यह अजीब है, लेकिन एक अभिनेता के रूप में आप चाहते हैं कि दर्शक आपसे कुछ बेहतर करने की उम्मीदें रखें और हौसलाअफजाई करें, यही चीज अभिनेता को कुछ बेहतर करने और उनकी उम्मीदों पर खरा उतरने का प्रयास करने के लिए प्रेरित करती है। मैं उनके प्यार के लिए उनका आभारी हूं। यह मुझे अपने दिल की सुनने का साहस और आत्मविश्वास देता है। हिट स्पोट्र्स बायोपिक, ‘भाग मिल्खा भाग (2013) के बाद निर्देशक राकेश ओमप्रकाश मेहरा दूसरी बार अभिनेता फरहान के साथ फिल्म ‘तूफान में काम कर रहे हैं। मेहरा कहते हैं, ‘तूफान एक ऐसी कहानी है, जो हम सभी को प्रेरित करेगी। फरहान के साथ फिर से काम करना बहुत मजेदार है। वह फिल्म में अभिनय ही नहीं करते, बल्कि फिल्म के साथ जुड़ भी जाते हैं। मैं इस फिल्म को दर्शकों तक पहुंचाने के लिए बहुत उत्साहित हूं।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *