जमीन के लिए पिता-पुत्र एक दूसरे के खून के प्यास हुए

श्रीगंगानगर, 30 अप्रैल (का.सं.)। नई मंडी घड़साना थाना इलाके में लगभग डेढ़ मुरब्बा कृषि भूमि के कब्जे और बंटवारे के विवाद को लेकर पिता पुत्रों के गुटों में जमकर घमासान तथा खूनी टकराव हो गया, जिसमें एक महिला सहित पांच व्यक्ति गंभीर रूप से घायल हो गए। कई अन्य व्यक्तियों के मामूली चोटें आईं। घायलों को नई मंडी घड़साना के सरकारी अस्पताल में इलाज के लिए लाए जाने के दौरान भी दोनों पक्षों में तनाव दिखाई दिया। इस पर पुलिस को अस्पताल परिसर में दोनों पक्षों को दूर के रखने में भी मशक्कत का सामना करना पड़ा। थाना प्रभारी विजेंद्र सीला ने बताया कि दोनों पक्षों के घायलों द्वारा दिए गए बयानों के आधार पर प्राणघातक हमले करने के आरोप में मुकदमे दर्ज किए गए हैं। थाना प्रभारी ने बताया कि सीमावर्ती चक 6-जीडी में ओमप्रकाश बिश्नोई का अपने पुत्र सुनील के साथ कृषि भूमि के बंटवारे तथा कब्जे को लेकर पिछले काफी समय से विवाद चल रहा है। ओम प्रकाश की पत्नी लिछमा देवी बिश्नोई का लगभग 20 वर्ष पहले किसी विवाद के चलते तलाक हो गया था। नई मंडी घड़साना के सरकारी हस्पताल में कल रात घायल अवस्था में पुलिस को दिए बयान में लिछमा देवी ने बताया कि पति ओमप्रकाश से उसके एक पुत्र सुनील है। करीब 20 वर्ष पहले तलाक हो जाने पर ओमप्रकाश ने किसी और महिला के साथ रहना शुरू कर दिया। इस महिला से ओमप्रकाश के कोई संतान नहीं है। लगभग 6 महीने पहले ओमप्रकाश वापिस उसके पास आकर रहने लगा। ओमप्रकाश के नाम करीब डेढ मुरब्बा कृषि भूमि है। लिछमादेवी का आरोप है कि ओमप्रकाश इस जमीन जायदाद में से उसे व उसके पुत्र को कोई हिस्सा नहीं दे रहा। पुलिस के अनुसार इसी बात को लेकर ही पिता पुत्र में कई दिनों से विवाद चल रहा है। कल देर शाम को दोनों पक्षों के लोग हथियारों से लैस होकर आमने-सामने हो गए तथा इनमें खूनी टकराव हो गया। दोनों पक्षों की ओर से अनेक प्रकार के हथियारों से वार किए गए। वहीं फायर भी किए गए। इस झगड़े में लिछमा देवी, उसका पुत्र सुनील के अलावा दूसरे पक्ष के ओमप्रकाश विश्नोई, उसका भाई रामचंद्र तथा एक अन्य नरसीराम बुरी तरह घायल हो गए। कई अन्य व्यक्तियों के मामूली चोटें आई। लिछमा देवी के बयान के आधार पर नरसीराम, ओमप्रकाश बिश्नोई, रामचंद्र, सुनील (पुत्र नरसीराम), बलदेवसिंह, सुभाष कस्वां तथा दो अन्य व्यक्तियों पर जानलेवा हमला करने के आरोप में मुकदमा दर्ज किया गया है।
दूसरी तरफ लिछमादेवी के पुत्र सुनील ने नरसीराम सहित अनेक व्यक्तियों पर हत्या का प्रयास करने के आरोप में मुकदमा दर्ज करवाया है। पुलिस ने बताया कि अभी कोई गिरफ्तारी नहीं हुई है।

हत्या के प्रयास का एक और मामला

इस बीच नई मंडी घड़साना थाना क्षेत्र में हत्या का प्रयास किए जाने की एक और घटना भी सामने आई है।थाना प्रभारी विजेंद्र सीला ने बताया कि चक 6-डीडी में सुल्तानाराम नामक व्यक्ति को उसके घर में ही घुस कर कुछ लोगों ने जानलेवा हमला करते हुए घायल कर दिया। सुल्तानाराम बीकानेर के पीबीएम अस्पताल में उपचाराधीन है। उसने बयान देते हुए कालासिंह पुत्र सोहन सिंह पर कैंफर वाहन में आकर और घर में घुसकर जानलेवा हमला करने का आरोप लगाया है। थाना प्रभारी ने बताया कि इन दोनों में शराब का सेवन करने के दौरान किसी बात को लेकर झगड़ा हो गया, जिसने बाद में तूल पकड़ लिया।काला सिंह और उसके साथियों पर हत्या का प्रयास करने की धारा 307,458 व अन्य धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *