अंतरराष्ट्रीय बाल शांति पुरस्कार-2020 के लिए जोधपुर की जसोदा प्रजापत नामांकित

अब तक रूकवा चुकी है कई बाल विवाह

जोधपुर (निसं.)। नीदरलैंड की किड्स राइट संस्था की ओर से दिए जाने वाला अंतरराष्ट्रीय बाल शांति पुरस्कार- 2020 के लिए जोधपुर के ओसिया की भैरव सागर निवासी जसोदा प्रजापत का नाम नामांकित हुआ है। जिससे परिवार सहित पूरे ओसिया तहसील में खुशी की लहर दौड़ पड़ी है। जसोदा प्रजापत एक सामान्य किसान परिवार में पैदा होकर महिलाओं और बच्चियों के उत्थान के लिए काम कर रही है। छोटी सी उम्र में ही जसोदा ने चार बाल विवाह रुकवाए। उर्मूल ट्रस्ट के साथ मिलकर जीवन कौशल शिक्षा सचिवों के माध्यम से उसने 130 से अधिक लड़कियों को प्रशिक्षित किया। जसोदा ने चुप्पी तोड़ो कार्यक्रम के माध्यम से मासिक धर्म स्वच्छता के बारे जागरुकता फैलाने में महत्वपूर्ण योगदान दिया। जसोदा प्रजापत के परिवार उसके इस सफलता से बहुत खुश हैं। पिता कुशाल प्रजापत का कहना है कि उनकी बच्ची ने उनका नाम रोशन किया। वह चाहते हैं कि उनकी बेटी जीवन में खूब पढ़े और आगे बढ़े। इसके अलावा सामाजिक दायित्वों का भी निर्वहन करती रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *