कविता कौशिक ने अभिनव शुक्ला पर लगाए आरोप तो भड़के यूजर्स, बोले- पब्लिसिटी के लिए यह हरकत कर रही हो

रिएलिटी शो बिग बॉस 14 में आए दिन ट्विस्ट देखने को मिल रहे हैं। अब मेकर्स ने शो के वीकेंड का वार एपिसोड का प्रोमो वीडियो शेयर किया है, जिसमें कविता कौशिक और उनके पति रोनित बिस्वास, अभिनव शुक्ला पर आरोप लगाते नजर आ रहे हैं। वीडियो में कविता कहती हैं कि अभिनव शुक्ला ने नशे में धुतकर होकर उन्हें हिंसक मैसेज किए हैं। लेकिन सोशल मीडिया यूजर्स का मानना है कि कविता पब्लिसिटी के लिए यह सबकुछ कर रही हैं। ऐसे में ट्विटर यूजर्स ने कविता कौशिक को ट्रोल करना शुरू कर दिया। अब वे कविता को अभिनव शुक्ला से माफी मांगने के लिए कह रहे हैं।एक यूजर ने लिखा, #ShamelessKavita । हम जानते हैं कि कौन सही है और कौन गलत। कौन पब्लििसटी के लिए क्या कर रहा है हमें पता है। हम पब्लकि हैं और हम सब जानते हैं। दूसरे यूजर ने लिखा है, #ShamelessKavita  इतना डेस्परेशन सस्ती पब्लििसटी के लिए। रोनित बिस्वास क्या आपने कविता से पूछा कि उसने जब अभिनव को फ्रेंड्स विद बेनिफिट्स कहा था तो इसका क्या मतलब था। हमें लगा था कि आप सेंसिबल इंसान हैं। अभिनव शुक्ला आप जेंटलमैन हो और हमें आप पर भरोसा है।वहीं, एक और यूजर ने लिखा, कविता आपको सभी के सामने अभिनव शुक्ला और रुबीना दिलैक से माफी मांगनी चाहिए। आपको खुद पता है कि आप गलत हैं। अगर आप गलत नहीं है तो पब्लिक में माफी मांगे। आधारहीन आरोप लगाने बिल्कुल भी सही नहीं है। वीडियो में कविता कहती हैं कि अभिनव ने उन्हें लगातार कई मेसेज भेजे थे। यहां तक कि जब मैंने उनसे कहा कि यदि मैसेज करने बंद नहीं किए तो फिर मैं पुलिस में शिकायत कर दूंगी। कविता के इन आरोपों पर अभिनव कहते हैं, ‘मैं उन मेसेजों को देखना चाहूंगा। हम उस पर लीगल तरीके से बात करेंगे।’ अभिनव, कविता पर रूबीना को धमकी देने का आरोप लगाते हैं। इस पर कविता के पति रोनित कहते हैं, क्या तुम यह सोचते हो कि कोई मेरी पत्नी को धमकी देगा और मैं चुपचाप बैठकर देखता रहूंगा। यह सब देखकर रुबीना दिलैक रोने लगती हैं। दोनों कपल्स के इस तरह से झगडऩे पर सलमान खान गुस्सा हो जाते हैं। ब्लेजर उतारते हुए वह दोनों कपल्स से कहते हैं कि एक सेकेंड के लिए शांत हो जाएं और झगड़ा बंद कर दें। सलमान खान गुस्से में कहते हैं, क्या खिलवाड़ बना के रखा है, गंदा है ये।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *