दिल को रखना है फिट, तो इन 6 बातों का रखें ख्याल

हृदय रोगों के कई कारण होते हैं जिनमें से एक कारण अनुवांशिकी भी है, ऐसे में आप इस कारण को काफी हद तक अपनी डाइट से कंट्रोल कर सकते हैं। आइए, जानते हैं कुछ डाइट जो आपकी इस रोग से बचने में मदद कर सकती है।
अपने वजन पर ध्यान दें-हृदय रोग और अत्यधिक वजन के बीच का संबंध काफी सशक्त होता है। इससे हृदयघात और उच्च रक्त चाप का खतरा अधिक होता है। सबसे अच्छा तरीका है कि शुरू से ही अपने वजन को कंट्रोल में रखें। इसके लिए आप डाइट और वर्कआउट, योग का सहारा ले सकते हैं।
प्रोसेस्ड मांस न खाएं-प्रोसेस्ड मीट वो मांस है जिसे ज़्यादा समय तक ताज़ा रखने के लिए रसायन, प्रीजरवेटिव के साथ मिलाकर रखा जाता है।एक्सपर्ट के मुताबिक, अगर आप रोज 50 ग्राम प्रोसेस्ड मीट अपने खाने में शामिल करते हैं, तो इससे हृदयघात की संभावना ही नहीं, 18 प्रतिशत कोलोरेक्टल कैंसर होने का ख़तरा भी बढ़ जाता है।
कम नमक खाएं-ज्यादा नमक खाने से रक्त में आयरन की मात्रा कम हो जाती है और इससे पेट में एसिडिटी बढ़ जाती है। इससे भूख नहीं लगने पर भी भूख का एहसास होता है। इससे ज्यादा कैलोरी हमारे शरीर में जाती है और मोटापा बढ़ता है।
कम चीनी खाएं -अधिक चीनी खाने से मधुमेह का खतरा भी बना रहता है वयस्कों और बच्चों को अपने कुल एनर्जी इनटेक में चीनी की मात्रा 10 प्रतिशत से कम रखनी।
सक्रिय रहें –व्यायाम शुरू करने के लिए कोई भी समय सही है। रोजाना के व्यायाम से कई फायदे होते हैं। आपके पास अगर वर्कआउट करने का समय नहीं है, तो आप खाना खाने के बाद रोजाना 10 मिनट वॉक करें।
तनाव मुक्त रहें-तनाव होने के कारण वजन बढऩे का खतरा भी रहता है, जिसके कारण हृदय रोगों की संभावना भी अधिक होती है। दरअसल, तनाव जितना ज्यादा रहेगा, हमारे शरीर को स्ट्रेस हार्मोन कोर्टिसोल से जूझना पड़ेगा। तनाव के कारण कुछ लोगों का दिल कमजोर होता जाता है जिससे वे हृदय की चपेट में आ जाते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *