पत्नी और 2 मासूम बच्चों की हत्या करके खुद लगाई फांसी

ब्याज माफिया के भेेंट चढ़ा एक और परिवार

जयपुर (कासं.)। गुरुवार को जयपुर में कर्ज के बोझ ने एक पूरा परिवार निगल लिया। यहां वैशाली नगर में एक युवक ने पत्नी और मासूम बेटे और बेटी की हत्या करके खुदकुशी कर ली। घर से पुलिस को एक सुसाइड नोट मिला है। जिसमें कर्ज से परेशान होने की बात लिखी है।पुलिस ने बताया कि वैशाली नगर की बुनकर कॉलोनी में गिर्राज राणा (28), पत्नीी शिमला (25), बेटी अनुष्का (4) और डेढ़ साल के बेटे कानू के साथ करीब दो साल से किराए के मकान में एक कमरा लेकर रहता था। वहीं घर के बाहर कॉलोनी में सब्जी का ठेला लगाकर परिवार का पेट पालता था।डीसीपी प्रदीप मोहन शर्मा ने बताया कि जिस मकान में गिर्राज किराए से रहता है। वहीं, मकान मालिक रुप नारायण गायें बांधते है। वहीं से दूध बेचते है। गुरुवार दोपहर करीब एक बजे मकान मालकिन सुनीता रोजाना की तरह पशुओं को खाना खिलाने गई थी। तब उसे गिर्राज के कमरे का दरवाजा बंद मिला। बच्चे और पत्नी भी नजर नहीं आई। तब उसने कमरे का दरवाजा खटखटाया। कोई जवाब नहीं मिला।
तब सुनीता ने अपने पति रुप नारायण को सूचना दी। रुप नारायण ने भी दरवाजा खोलने का प्रयास किया। लेकिन नाकाम रहा। तब पड़ोसियों को बताया। इसके बाद घर के पिछले हिस्से में खिड़की से झांककर देखा। तब गिर्राज कमरे में फंदे पर लटकते हुए नजर आया। इसके बाद स्थानीय लोगों ने कमरे का दरवाजा तोड़ा। तब गिर्राज की पत्नी व दोनों बच्चे फर्श पर लहूलुहान हालत में पड़े थे।उनका गला चाकू से कटा हुआ था। वहीं, गिर्राज खुद पंखे के कड़े से लटका हुआ था। तब सूचना मिलने पर वैशाली नगर थानाप्रभारी अनिल जैमिनी मौके और उच्चाधिकारी मौके पर पहुंचे। फिंगर प्रिंट और एफएसएल टीम को बुलवाया गया। घटनास्थल के आसपास मकानों व छतों पर भीड़ इकट्ठा हो गई। स्थानीय निवासी रामसिंह ने बताया कि सुबह 10 बजे तक गिर्राज और उसकी पत्नी बच्चों को मकान में देखा गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *