लेक्सस ने भारत में नए मॉडल्स किये लॉन्च

 

नई दिल्ली। लक्जरी कार उत्पादक लेक्सस ने पाट्र्स एंड कम्पोनेन्ट्स कैटेगरी में स्थानीय उत्पादन, एक विस्तृत प्रोडक्ट पोर्टफोलियो और अपने गेस्ट एक्सपीरियेन्स सेंटर नेटवर्क के विस्तार की घोषणा कर भारत के लिये अपनी प्रतिबद्धता को दोहराया है। मार्च 2017 में भारत में अपने डेब्यू के बाद से लेक्सस ने विश्व की सबसे तेजी से बढ़ रही प्रमुख अर्थव्यवस्था में लक्जरी को पुन:परिभाषित किया है और विवेकशील भारतीय उपभोक्ता के लिये अपवादी डिजाइन और गुणवत्ता की सतत् आपूर्ति की है। लेक्सस इंडिया के प्रेसिडेन्ट पी. बी. वेणुगोपाल ने कहा, ”यह भारत में हमारी यात्रा का अगला बड़ा कदम है। यह स्थानीय आधार पर ऑटोमोटिव उत्पादन की कुशलताओं में हमारे विश्वास को प्रतिबिम्बित करता है। इसके अलावा, एलसी-500एच, एनएक्स-300एच एक्विसाइट और इएस-300एच एक्विसाइट की प्रस्तुति भारत के उपभोक्ताओं के लिये कारों की शानदार श्रृंखला लाने के लिये हमारा समर्पण दर्शाती है, जिन्होंने लेक्सस के डिजाइन और इंजिनियरिंग को स्पष्ट तौर पर पसंद किया है। हर नया मॉडल उस बेजोड़ गुणवत्ता और शिल्पकारिता को प्रतिबिम्बित करता है, जिसके लिये लेक्सस प्रसिद्ध है।Óइस ब्राण्ड ने तीन नये मॉडल्स- प्रमुख एलसी-500एच कूपे, इएस-300एच एक्विसाइट और एनएक्स-300एच एक्विसाइट को लॉन्च कर भारतीय उपभोक्ताओं के लिये अपवादी वाहनों की आपूर्ति करने की अपनी प्रतिबद्धता को विस्तार भी दिया है। एलसी-500एच कूपे हाइब्रिड इलेक्ट्रिक वाहन के प्रदर्शन के मामले में उत्कृष्ट है और आकर्षक डिजाइन तथा शिल्पकारिता का सुगम मिश्रण दर्शाती है। यह ब्राण्ड मौजूदा इएस और एनएक्स वाहनों के नये वैरियेन्ट्स इएस-300एच एक्विसाइट और एनएक्स-300एच एक्विसाइट के साथ एलसी-500एच को लॉन्च कर अपने प्रोडक्टन पोर्टफोलियो को और विस्तृत कर रहा है। भारत में बनने वाला पहला मॉडल होगा लोकप्रिय विश्व-स्तरीय इस-300एच, जिसका प्रदर्शन बेजोड़ है और जिसमें लेक्सस के हस्ताक्षरित परिष्करण वाली और अत्याधुनिक प्रौद्योगिकी वाली सुरक्षा विशेषताएं हैं। उत्पादन की शुरूआत जनवरी 2020 से हुई है और भारत में स्थानीय रूप से निर्मित पहला मॉडल फरवरी 2020 से उपलब्ध होगा।  इस विकास प्रक्रिया में लेक्सस इंडिया ने चंडीगढ़, चेन्नई, कोचि और हैदराबाद में चार नये गेस्ट एक्सपीरियेन्स सेंटरों के लॉन्च की घोषणा भी की, इस प्रकार लेक्सस की लक्जरी का अनुभव अधिक शहरों तक पहुँच गया है। दिल्ली, मुंबई और बैंगलोर में पहले से ऐसे गेस्ट एक्सपीरियेन्स सेंटर हैं।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *