कोई भी मरीज दवाई से नहीं रहे वंचित : जिला कलक्टर

 

 

झुंझुनूं। जिला कलक्टर रवि जैन ने शुक्रवार को जिला मुख्यालय स्थित राजकीय बीडीके अस्पताल का औचक निरीक्षण किया। जैन ने सर्वप्रथम महिला दवाई काउन्टर पर लगी हुई लाईन में मरीजों से दवाईयों के बारे में जानकारी ली की उन्हें डॉक्टर द्वारा लिखी हुई दवाई मिल रही हैं या नहीं, उसके पश्चात काउन्टर में उपस्थित कर्मचारियों को निर्देश दिए कि स्टोर में जो दवाई उपलब्ध ना हो उसे तुरंत उपलब्ध करवाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि कोई भी मरीज दवाई से वंचित ना रहे।जैन ने आउटडोर में स्थित बंद पड़े टॉयलेट को दुबारा चालू करवाने, एक ही कमरे में ज्यादा चिकित्सकों के बैठे पाए जाने पर कहा कि जो कमरे खाली पड़े हैं, उनमें इनके बैठने की व्यवस्था की जाए। ओपीडी में मरीजों के बैठने के लिए कुर्सी की व्यवस्था करने के निर्देश दिए। उन्होंने टैली मेडिसिन कक्ष में चिकित्सकों से कन्सलटेंट द्वारा बताई गई मरीज की बिमारी से संबंधित जवाब के बारे में जानकारी ली। आउटडोर के प्रवेश द्वार पर लगी हुई स्टील रेलिंग को तत्काल हटाने के निर्देश दिए। उन्होंने काम में नहीं आ रही अतिरिक्त पर्ची कांउटर को बंद करने के निर्देश दिए।
अलग-अलग विभाग के बारे में ली जानकारी: उन्होंने यूनानी ओपीडी, दन्त विभाग, एमसीडी क्लिनिक में सुविधाओं एवं मेडिसीन के बारे में डॉक्टरों से पूछा तो सामने आया कि दन्त विभाग में एन्डोमोटर मशीन की आवश्यकता हैं, जिसके लिए लिखित में भिजवाया गया है।
ओपीडी रजिस्टर किया चैक: उन्होंने ओपीडी रजिस्टर चैक करते हुए सीपीसी, आरएसएफटी, मलेरियां जैसे फॉर्म के बारे में जानकारी प्राप्त की। जिला कलक्टर ने कान, नाक, गला विभाग में मरीजों को मिल रही सेवाओं के बारे में पुछताछ की। वहीं डॉक्टर की उलटी पड़ी हुई नाम प्लेट एवं वहां बिखरे हुए जांच से संबंधित फॉर्म पर सख्त नाराजगी जाहिर कर डॉक्टर को सुव्यवस्थित रखने की हिदायत दी।
डॉक्टर को नेफटिन पहनने की दी हिदायत: जैन ने ओपीडी में बगैर नेफटिन पहने मरीजों को देख रहे डॉ. सुनील सोहु एवं डॉ. कैलाश राहड़ को निर्देश दिए कि वे इसको पहनकर अपना कार्य करें।
अनुपस्थित डॉक्टर मिलने पर नोटिस देने के दिए निर्देश : आउटडोर में अनुपस्थित मिले डॉ. हरलाल नेहरा पर जैन ने उपस्थित रजिस्टर चैक कर पीएमओ को फटकार लगाई कि जो व्यक्ति अपने कार्य को करने एवं समय पर आने में कोताही बरते तो उनके खिलाफ नोटिस जारी करें।
डॉक्टर बुडानिया को निलम्बित करने के दिए आदेश : इसी दौरान चर्म एलर्जी योन रोग विशेषज्ञ योगेन्द्र बुडानियां के अनुपस्थित एवं काफी दिनों से मिल रही शिकायतों को देखते हुए जिला कलक्टर ने बुडानियां को निलम्बित एवं 16 सीसीए की चार्जशीट देने के लिए पीएमओ को आदेश दिए।
नर्सिग छात्र-छात्राओं से ली जानकारी: जैन ने ड्रैसिंग रूम के निरीक्षण के दौरान नर्सिग करने आ रहे छात्र-छात्राओं से इंजेक्शन लगाने एवं आप को दी जा रही प्रेक्टिकल ट्रेनिंग से कितना सिखने को मिल रहा हैं साथ ही आपको अस्पताल चिकित्सकों द्वारा सही प्रकार कार्य करने के बारे में बताया जाता हैं कि नहीं इस बारे में जानकारी ली।
महिला-पुरूष पर्ची कांउन्टर पर लिखे नाम: उन्होंने पीएमओ को निर्देशित किया वे महिला एवं पुरूष पर्ची कांउन्टर अलग-अलग प्लास्टिक की प्लेट पर नाम लिखवाकर लगावाएं। पेंशनर, वरिष्ठ नागरिक, दिव्यांगजन काउन्टर के नाम एवं आधार साथ लेकर आने जैसी प्लास्टिक की नाम प्लेट पर्ची कांउन्टर पर लिखवाने एवं ऑपरेटर को निर्देश दिए कि वे 60 साल के नागरिकों को पहले प्राथमिकता देवें।
सखी सेंटर का किया निरीक्षण: जिला कलक्टर ने 24 घंटे चल रहे सखी सेंटर में उपस्थित काउंसलर को निर्देश दिए कि घरेलु विवाद एवं अन्य की काउंसलिंग का कार्य नियमित रूप से चले। इसके लिए कांउसलर ने अवगत करवाया कि तीन पारियों में सेंटर में कांउसलर एवं गार्ड की डयूटी लगाई गई है।
दवाई कांउन्टर पर लंम्बी लाईन देख दिए निर्देश: इसी दौरान ईमरजेंसी वार्ड के सामने दवाई कांउन्टर के सामने लगी लम्बी लाईन को देख जैन ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि लम्बी लाईन होने पर दूसरे कांउन्टर पर दवाई के लिए मरीजों को भेजने के लिए गार्ड की डयूटी लगाई जाए।
सीसीटीवी कंट्रोल रूम का किया निरीक्षण: जैन ने अस्पताल अतिरिक्त लगाए जा रहे सीसीटीवी कैमरे के कंट्रोल रूम के निरीक्षण के दौरान कहा कि प्रत्येक वार्ड, अस्पताल परिषर के बाहर, ओपीडी में कैमरे लगवाएं जाए। उन्होंने बताया कि करीब 100 से अधिक कैमरे अस्पताल में लगाए जाएगें।
मरीजों से ली फ्री दवाई के बारे में जानकारी: जैन ने दवाई कांउन्टर पर मौजूद मरीजों से फ्री में दी जा रही दवाई के बारे में पुछा तो मरीजों ने उन्हें पूरी दवाई उपलब्ध होने की बात कही। उन्होंने संबंधित को निर्देश दिए कि मुख्यमंत्री नि:शुल्क दवाई वितरण केन्द्र में सभी प्रकार की दवाई उपलब्ध करवाएं साथ ही चिकित्सक भी वहीं दवाई लिखे जो कांउन्टर पर उपलब्ध हो। जिला कलक्टर ने दवाई कांउन्टर के पास स्थित पेड़ की जड़ के पास पाईप लाईन से हो रहे पानी लीकेज को बगैर पेड़ काटे दुरूस्त करवाने के निर्देश दिए। उन्होंने निर्देश दिए कि अस्पताल के पंखे, कूलर व महिला सर्जिकल वार्ड में बंद एसी को ठीक करवाने, अस्पताल में साफ-सफाई व्यवस्था पुख्ता रहे, शौचालय साफ रहें, पेयजल की पुख्ता व्यवस्था हो, चादर व पर्दे समय पर धुलवाए जाएं। उन्होंने प्रस्तावित पार्क व पार्किंग स्थल के कार्य को जल्द से जल्द शुरू करवाने के निर्देश दिए। इस दौरान एडीएम राजेन्द्र अग्रवाल, पीएमओ शीशराम गोठवाल, डॉ. शुभकरण कालेर, डॉ. विकास राहड़ सहित चिकित्सा विभाग के अधिकारी उपस्थित थे।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *