पहले से ही अनुमति प्राप्त उद्योगों को संचालित करने के लिए अलग से अनुमति लेने की आवश्यकता नहीं -राजस्थान सरकार

जयपुर । एक तरफ जहां मुख्यमंत्री अशोक गहलोत लॉकडाउन के किसी भी उल्लंघन के खिलाफ सख्त हैं, वहीं दूसरी ओर, राजस्थान सरकार ने स्वत: अनुमति देने के संबंध में एक परिवर्तनवादी आदेश जारी किया है। जिसमें यह स्पष्ट किया गया है कि कोरोनावायरस महामारी के खिलाफ एहतियाती उपाय सुनिश्चित करते हुए पहले से ही अनुमति प्राप्त उद्योग बिना किसी नई अनुमति के अपना काम जारी रख सकते हैं। लॉकडाउन अगले 5 दिनों में समाप्त होने वाला है। इसलिए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा है कि वह लॉकडाउन को चरणबद्ध तरीके से समाप्त करने के पक्ष में है और इसे एकदम से समाप्त नहीं किया जा सकता है। उन्होंने कहा, ”हम लॉकडाउन को तुरंत वापस नहीं ले सकते।मुझे लगता है कि इसे चरणबद्ध तरीके से खत्म किया जाना चाहिए।उद्योग मंत्री परसादी लाल मीणा ने कहा, हम इस कठिन समय के दौरान आवश्यक वस्तुओं की बिना किसी अड़चन के उपलब्धता करवाना चाह रहे हैं और इसको सुनिश्चित करने में उद्योगों की बड़ी भूमिका है। स्वचालित अनुमति की प्रक्रिया पहले से अनुमत उद्योगों के संचालन में तेजी लाएगी और आवश्यक वस्तुओं के शीघ्र उत्पादन को सुनिश्चित करेगी। इस परिवर्तवादी आदेश को जारी करते हुए, उद्योग विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव डॉ. सुबोध अग्रवाल ने कहा, हमारे संज्ञान में आया है कि जिन श्रेणियों को अनुमति दी गई है,उनके तहत आने वाले काफी सारे निजी प्रतिष्ठान जैसे कारखाने, कार्यालयों, कार्यशालाओं और सेवा प्रदाताओं अभी भी उनको खोलने व काम करने की अनुमति लेने में परेशानियों का सामना कर रहे हैं। यह नीतिगत निर्णय उन बाधाओं को दूर करने पर लक्षित है। विभाग ने यह भी स्पष्ट किया है कि यदि कोई उद्योग इस बात से सुनिश्चित नहीं है कि वह अनुमत श्रेणी में आता है या नहीं, तो वे इसके लिए जिला प्रशासन से परामर्श कर सकते हैं।

निम्नलिखित उद्योगों को संचालित करने की अनुमति है-

1. आवश्यक वस्तुओं का विनिर्माण और इसकी पैकेजिंग, जिसमें खाद्य पदार्थ ,औषधि जिसमें आयुष औषधि भी शामिल हैं, दवाईयां,चिकित्सा उपकरण, स्वच्छता उत्पाद और साथ ही ऐसे उद्योग जो इन उद्योगों को कच्चा माल प्रदान करते हैं।
कोयला और खनिज उत्पादन जैसी सतत प्रक्रिया की आवश्यकता वाली उत्पादन इकाइयों को भी संचालित करने की अनुमति है।
2. डेयरी, पशु चिकित्सा दवाएं, क्लीनिक और अस्पताल, मवेशी और मुर्गी पालन के लिए कच्चे माले की विनिर्माण इकाइयां , पैकेजिंग,मधुमक्खी पालन की भी अनुमति है।उपरोक्त के अलावा, होम डिलीवरी ध्ई-कॉमर्स कंपनियां जो आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति करती हैं ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *